ब्लॉगसेतु

Asha News
94
महाआरती के साथ हुआ ३ दिवसीय अध्यात्म महोत्सव का समापन झाबुआ। शहर के गोपाल काॅलोनी स्थित गोपाल मंदिर में शताब्दी समारोह-2020 के उपलक्ष में त्रि-दिवसीय महोत्सव के तहत अंतिम दिन गोपाल प्रभु की महाआरती का आयोजन हुआ। महाआरती दोपहर ठीक 12 बजे आरंभ हुई। इससे पूर्व भज...
सुशील बाकलीवाल
420
 पुराणों में वर्णित धरती के बैकुंठ के रुप में प्रचलित इस मंदिर में दिखेंगे ये 8 अजूबे...1. मन्दिर के ऊपर झंडा हमेशा हवा के विपरीत दिशा में लहराते हुए दिखता है ।2. पुरी में किसी भी जगह से आप मन्दिर के ऊपर लगे सुदर्शन चक्र को देखें, तो वह आपको सामने ही लगा दिखेग...
Pawan Kumar Sharma
158
पवन कुमार, नई दिल्ली
Khushdeep Sehgal
59
9 नवंबर 2019राम मंदिर निर्माण के लिए रास्ता साफ़ होना...करतारपुर कॉरिडोर का खुलना...संयोग है कि ये दोनों बातें एक ही दिन, एक साथ हुईं...(30 साल पहले इसी तारीख को बर्लिन की दीवार भी गिरी थी)राम मंदिर हिन्दुओं की आस्था का प्रतीक है तो करतारपुर में दरबार साहिब गुरद्वा...
Asha News
94
आतिशबाजी के साथ मनाया आंवला नवमी का पर्वझाबुआ। आंवला नवमी पर नगर में विराजित मां दक्षिणमुखी कालिका माता के मंदिर में भव्य छप्पनभोग नैवेद्य अर्पण का कार्यक्रम भक्ति एवं श्रद्धा के साथ मंगलवार रात्री 7-30 बजे संपन्न हुआ । नवनीत कला मंडल द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में...
Saransh Sagar
229
कैलाश मंदिर दुनिया भर में एक ही पत्थर की शिला से बनी हुई सबसे बड़ी मूर्ति के लिए प्रसिद्ध है। इस मंदिर को तैयार करने में क़रीब 150 वर्ष लगे और लगभग 7000 मज़दूरों ने लगातार इस पर काम किया। पच्‍चीकारी की दृष्टि से कैलाश मन्दिर अद्भुत है। मंदिर एलोरा की गुफ़ा संख्या 1...
sanjay krishna
259
मालूटी मंदिरों का गांव है। राज्य की दूसरी राजधानी दुमका से पूरब 55 किमी दूर शिकारीपाड़ा प्रखंड में यह ऐतिहासिक गांव स्थित है। रामपुर रेलवे स्टेशन से पश्चिम में 16 किमी दूर है। यहां पहुंचने के लिए राजधानी रांची से बस द्वारा देवघर होते हुए भी पहंुचा जा सकता है। वहीं द...
 पोस्ट लेवल : मलूटी के मंदिर
Asha News
94
झाबुआ।  नगर के हृदयस्थल पर स्थित श्री गोवर्धननाथजी की हवेली में सांयकाल राजभोग के समय भगवान गोवर्धननाथ जी हवेली में चतुर्दशी के अवसर पर पुष्प से किलाकोट का निर्माण किया गया तथा भगवान गोवर्धननाथ जी को हरियाली से आच्छादित झुले में बिराजित किया गया । इस अवसर पर ज...
Asha News
314
मान्यता है कि ऋणमुक्तेश्वर महादेव के पूजन से किसी भी प्रकार का ऋण भार, पितृ ऋण व अन्य ऋण का जल्द निराकरण हो जाता है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पण्डित दयानन्द शास्त्री जी ने बताया कि प्रचलित दन्त कथानुसार शिप्रा नदी के तट पर स्थित वट वृक्ष के नीचे सत्यवादी राजा हरीशचं...
Asha News
94
अष्ट प्रभावक के 50वें संयम दिवस के उपलक्ष में प्रथम दिन जिनेष्वर पूजन एवं दूसरे दिन श्री धन्ना शालिभद्रजी की 99 पेटियों का हुआ कार्यक्रमझाबुआ। जैन धर्म दीवाकर, राजस्थान केसरी, अष्ट प्रभावक नरेन्द्र सूरीष्वरजी मसा ‘नवल’ के 50वें संयम अनुमोदनार्थ त्रि-दिवसीय महोत्सव...