ब्लॉगसेतु

विजय राजबली माथुर
128
वाम को जनता व मजदूर वर्ग से उनकी भाषा में संपर्क करना होगा  ------ आकृति भाटिया   : पहले से निश्चित था कि , भाजपा की मोदी सरकार 2019 के चुनावों में छल - छद्यम से पुनः सत्तारूढ़ होने की जुगत में है जिसमें उसे सफलता इसीलिए मिल गई क्योंकि वामपंथी द...
जेन्नी  शबनम
102
अधिकार और कर्त्तव्य   *******   अधिकार है तुम्हें   कर सकते हो तुम   हर वह काम जो जायज नहीं है   पर हमें इजाजत नहीं कि   हम प्रतिरोध करें,   कर्तव्य है हमारा   सिर्फ वह बोलना  &nbs...
 पोस्ट लेवल : मजदूर दिवस
Kavita Rawat
85
..............................
 पोस्ट लेवल : मजबूर मजदूर मई दिवस
विजय राजबली माथुर
128
महाराष्ट्र के नासिक में एक किसान को अपनी प्याज की उपज एक रूपये प्रति किलोग्राम से कुछ अधिक की दर पर बेचनी पड़ी। उसने विरोध स्वरूप अपनी मेहनत की कमाई प्रधानमंत्री राहत कोष में भेज दी है। देश भर के किसानों का मोदी सरकार के खिलाफ गुस्सा थमने का नाम नहीं ले रहा है...
शिवम् मिश्रा
425
 फिल्म इस्माइल पिंकी ने पिंकी को भले ही शोहरत की बुलंदियों पर पहुंचा दिया फिर पिंकी की सहायता करने वालों की एक लंबी फेहरिस्त तैयार हो गई बावजूद इसके आज पिंकी का क्या हुआ वह क्या कर रही है, यह अब शायद ही कोई जानता हो ।  आज भी ग्रामीण और शहरी क्षे...
विजय राजबली माथुर
128
Hemant Kumar Jha12 -08-2018  · जिन संस्थाओं पर देश को नाज था उनकी दीवारें दरक रही हैं। इनसे जुड़े लोग आशंकित और आंदोलित हैं। बदलती अवधारणाओं के इस दौर में संरचनाएं पुनर्परिभाषित हो रही हैं और संस्थाओं से जुड़ी जन आस्थाओं का कोई मूल्य नहीं रह गया है।रेल...
kumarendra singh sengar
29
बालश्रम को रोकने के लिए बाल श्रम ( निषेध एवं विनियमन) संशोधन बिल 2016 सदन में पारित हुआ. सरकारें लगातार इसके उन्मूलन हेतु कार्य करती हैं. देश का संविधान भी बाल श्रम उन्मूलन की बात करता है. इसके अनुच्छेद 23 में खतरनाक उद्योगों में बच्चों के रोजगार को प्रतिबंधित किया...
शिवम् मिश्रा
425
आज १२ जून है ... विश्व भर में बालश्रम दिवस 12 जून को मनाया जाता है।भारत में भी बालश्रम की समस्या दशकों से प्रचलित है। भारत सरकार ने बालश्रम की समस्या को समाप्त कदम उठाए भी हैं। भारतीय संविधान के अनुच्छेद 23 खतरनाक उद्योगों में बच्चों के रोजगार पर प्रतिबंध लगा...
विजय राजबली माथुर
75
स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए इमेज पर डबल क्लिक करें (आप उसके बाद भी एक बार और क्लिक द्वारा ज़ूम करके पढ़ सकते हैं )  संकलन-विजय माथुर, फौर्मैटिंग-यशवन्त यश
शिवम् मिश्रा
425
फिल्म इस्माइल पिंकी ने पिंकी को भले ही शोहरत की बुलंदियों पर पहुंचा दिया फिर पिंकी की सहायता करने वालों की एक लंबी फेहरिस्त तैयार हो गई बावजूद इसके आज पिंकी का क्या हुआ वह क्या कर रही है, यह अब शायद ही कोई जानता हो । आज भी ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों म...