ब्लॉगसेतु

विजय राजबली माथुर
75
स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए इमेज पर डबल क्लिक करें (आप उसके बाद भी एक बार और क्लिक द्वारा ज़ूम करके पढ़ सकते हैं )  संकलन-विजय माथुर, फौर्मैटिंग-यशवन्त यश
अनीता सैनी
41
जिंदगियाँ निगल रहा प्रदूषण  क्यों पवन पर प्रतंच्या चढ़ाया है कभी अंजान था मानव इस अंजाम से आज वक़्त ने फ़रमान सुनाया है चिंगारी सोला बन धधक रही मानव !किन ख्यालों में खोया हैवाराणसी सिसक-सिसक तड़पती रही आज...
Asha News
89
राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग की टीम ने भेट किए पंखेझाबुआ। जिले की शासकीय उत्कृष्ट माध्यमिक विद्यालय झकनावदा में समाजसेवी संस्था राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग के प्रतिनिधि प्रदेश अध्यक्ष मनीष कुमट द्वारा गत दिनों स्कूली बहनों (छ...
126
पवन पुत्र हनुमान वानर नही मानव थे … डा श्याम गुप्त =================================जगह-जगह मन्दिरों में स्थापित हनुमान जी की मूर्तियों को देख कर अधिकाँश हिन्दू और सभी विधर्मियों की आम धारणा है कि भगवान के रूप में प्रतिस्थापित हनुमान बानर थे |\इस धार...
 पोस्ट लेवल : वानर या मानव हनुमान
Sanjay  Grover
391
सलीम उस लड़के का नाम था जिसने मुझसे कहा कि ‘पैसे की तो कोई बात नहीं, आपकी जींस पर दो सुईयां टूट गईं हैं, उनके दो रुपए दे दो’। मुझे बात बहुत अच्छी लगी। जींस बहुत मोटे कपड़े की थी। सलीम उस वक़्त लड़का-सा ही था। छोटी-सी दुकान में दो मशीन लेकर बैठता था। उससे दोस्ती हो गई।...
Sanjay  Grover
391
कम-अज़-कम दो तरह की सामाजिकता समझ में आती है-एक जो सीखी हुई या रटी हुई सामाजिकता है जिसमें हमारे माता-पिता, क़िताबों, गुरुओं, बुज़ुर्गों ने जो सिखा दिया है उसे हम किसी कर्मकांड की तरह बिना सोचे-समझे निभाते जाते हैं, बिना यह जानने की कोशिश किए कि इससे वास्तव में समाज क...
mahendra verma
279
आजकल टेलीविज़न के चैनलों में भविष्यफल या भाग्य बताने वाले कार्यक्रमों की बाढ़ आई हुई है । स्क्रीन पर विचि़त्र वेषभूषा में राशिफल या लोगों की समस्याओं के समाधान बताते ये लोग भविष्यवक्ता कहे जाते हैं । क्या ये सचमुच भविष्य की घटनाओं को पहले से जान लेते हैं ? क्या इनके...
Asha News
89
कई सज्जनों को देश में सेवा कार्य के लिए राष्ट्रीय कार्यकारिणी ने किया सम्मानितझाबूआ। भारत में समाज सेवा में अलग पहचान बनाते हुए तीव्रगति से बढ़ने वाले सामाजिक संगठन राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग का महाधिवेशन 15 दिसंबर, शनिवार को मुंबई के रूद्र शेल्टर...
निरंजन  वेलणकर
245
६. बीड से अंबेजोगाई इस लेख माला को शुरू से पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए|१७ नवम्बर की भोर| इन्फँट इंडिया बाल गृह से निकला| निकलते समय दत्ताजी और सब बच्चों ने मुझे विदा कहा| बड़े प्यार से मेरे लिए बहुत जल्द उठ कर भोजन भी बनाया| इस हिल से उतरते समय नीचे के सरोवर क...
sanjiv verma salil
6
कार्यशाला छंद बह्र का मूल है  रगण यगण गुरु = २१२ १२२ २ सात वार्णिक उष्णिक जातीय, बारह मात्रिक आदित्य जातीय मानवी अमानवी छंद *मुक्तकमेघ ने लुभाया हैमोर नाच-गाया हैजो सगा नहीं भायावह गया भुलाया है*मौन मौन होता हैशोर शोर बोटा हैसाफ़-साफ़ बोले जो...