ब्लॉगसेतु

Bhavna  Pathak
82
बदल गए हैं खेल खिलौनेबदल गई है दुनियाखेल रही फुटबाल मैच अबमोबाइल पर मुनियाक्रिकेट मैच भी खेले कान्हाघर आते ही पढ़करबस्ता फेंक बैठता जल्दी सेमोबाइल लेकरआंख मिचौनी अंठी चक्खनफिरकी लट्टू कंचेगिल्ली- डंडा अरगज चिभ्भीक्या जानें अब बच्चेसिमट गई दुनिया बच्चों कीमोबाइल से...
Bhavna  Pathak
82
हिमांचल प्रदेश, धर्मशाला में हुए अंतिम टेस्ट मैच में आस्ट्रेलिया जैसी टीम के खिलाफ पहाड़ सी जीत दर्ज करने के लिए टीम इंडिया को हार्दिक बधाई इन पंक्तियों के साथ-कठिन परीक्षा में हुई टीम इंडिया पासबाहर जा रचना उसे और बड़ा इतिहासऔर बड़ा इतिहास कि दुनिया लोहा मानेटीम इ...
शिवम् मिश्रा
22
सभी ब्लॉगर मित्रों को मेरा सादर नमस्कार।टेस्ट क्रिकेट आज 140 साल का सफर पूरा कर चुका है और पहले टेस्ट से अब तक यह बदलाव के लंबे दौर से गुजरा है, न केवल नियम के मामले में बल्कि खिलाड़ियों के आचरण के संदर्भ में भी। खास अवसरों को अपने ही अंदाज में बयां करने वाले गूगल...
संगीता पुरी
111
कल फेसबुक में मेरे एक लाइन पर बवाल मच गया , क्‍योंकि मैने लिखा था कि  'ग्रहीय स्थिति इंगलैंड के अनुकूल और वेस्‍ट इंडीज के प्रतिकूल रहेगी' हम सबने देखा कि प्रतिकूल स्थिति से निबटकर ही वेस्‍ट इंडीज ने मैच जीता , फिर भी जबरदस्‍ती मेरे मेरे स्‍टेटस को भविष्‍यवाणी...
Kajal Kumar
15
शिवम् मिश्रा
435
अपनी जन्मभूमि को .... अपनी कर्मभूमि को ... अपनी रणभूमि को ... अपना आखिरी प्रणाम करते ... महायोद्धा ... महानायक ... सचिन रमेश तेंदुलकर | सचिन तुम्हें सलाम !!
Kajal Kumar
380
श्रीसंत तेरा ये आत्‍मबलि‍दान कभी व्‍यर्थ न जाएगा. तू पकड़ा क्‍या गया, देश भर की जंग लगी पुलि‍स की नसों में तूने ख़ून भर दि‍या कि -‘हयं ! हमारे इलाके से कोई सट्टेबाज़ नहीं पकड़ा गया अभी तक ?’ और देखते ही देखते थानों में आपाधापी होने लगी है. ऐसे लगता है कि थाने-थाने...
अजय  कुमार झा
35
गूगल सर्च इंजन से साभार तो आईपीएल का नयका संस्करण फ़िर से पूरे उफ़ान पर है और पब्लिक का जोश तूफ़ान पर है लेकिन तूफ़ान से भी ज्यादा आज कुछ तूफ़ानी करते हैं टाइप का जुनून तो सट्टा बाबा लोगों पर छाया हुआ है । ट्वेंटी ट्वेंटी में बॉलिंग और बैटिंग का रफ़्तार चाहे धीमा और तेज़...
अजय  कुमार झा
35
भारतीय क्रिकेट टीम आखिरकार कंगारूओं के देश में कूद कूद के चलना तो दूर चारो खाने चित्त हो गई वो भी इत्ती चित्त कि देश की सेंटी जनता सेंटीमेंटल होकर अपनी उस टीम का जलूस निकालने में लग गई जिस टीम के विश्व कप जीतने पर जनता ने खुद जलूस निकाला था । भारतीय टीम कंगारूओं के...
संगीता पुरी
111
ज्‍योतिष विज्ञान है या अंधविश्‍वास , बुद्धिजीवियों द्वारा तय न किए जाने से आम लोगों की स्थिति बहुत ही कष्‍टमय हो गयी है। पर पूरा जीवन ग्रहों के पृथ्‍वी पर पडनेवाले प्रभाव के अवलोकण के पश्‍चात् मैं इतना तो निशिचत तौर पर कह सकती हूं कि ग्रहों का प्रभाव हर क्षेत्र पर...