ब्लॉगसेतु

Aamir  Ali
349
एक बहुत ही मशहूर कहानी है शायद आपने इसे कई बार देखा और पढ़ा होगा.कहते हैं की एक माँ थी और एक उसका बेटा था.माँ ने मेहनत मजदूरी करके अपने बेटे की परवरिश की.दुःख लक्लीफें उठाकर उसे पाला पोसा और बड़ा किया.अब ये नवजवान हो चुका था.एक दिन कहीं से गुजर रहा था तो रास्ते में...
 पोस्ट लेवल : मोहब्बत नामा
Aamir  Ali
349
प्यार इश्क और मोहब्बत का फलसफा ?दोस्तों आपने अक्सर सुना होगा कि इसको प्यार हो गया है ,उसको इश्क हो गया है ,वगेरा .बल्कि कई तो कहते हें कि मुझे इतनी इतनी बार मोहब्बत हुई है ,तादात भी बताते है कि जिन्दगी में ३ बार प्यार हुआ है वगेरा .आज मै आपको बताता हु कि इसका फलसफा...
 पोस्ट लेवल : मोहब्बत नामा
Aamir  Ali
349
                                फ़िल्मी हिरोइन और मोहब्बत :फिल्मो में हम देखते है की हिरोइन एक गरीब की मोहब्बत में सब कुछ कुर्बान करती नजर आती है ,और अक्सर फिल्मो की स्टोरीज में यही दिख...
Aamir  Ali
349
डियर रीडर्स , आप सभी को मोहब्बत नामा ब्लॉग कि तरफ से नया साल मुबारक। दुआ है कि ये नया साल हम सभी के लिए ढेर सारी खुशियां लेकर आये। इस साल 2013 में इस ब्लॉग पर मै बहुत ही कम पोस्ट्स कर पाया। इसकी वजह लेखन की कमी नही बल्कि ब्लॉगिंग से दिलचस्पी कम होना है ,फिर भी आने...
 पोस्ट लेवल : मोहब्बत नामा
Aamir  Ali
349
जिससे मोहब्बत की है अगर उसी के साथ जिन्दगी के लम्हात गुजारना नसीब हो जाये तो क्या ही अच्छी बात है। कहते हैं की वर्ना मोहब्बत का गम जिन्दगी भर सताता रहता है। जिन्दगी के तजर्बात तो इस बात को गलत ही साबित करते नज़र आते हैं। शादी एक ऐसी जड़ी बूटी है जो मोहब्बत के सारे...
Aamir  Ali
349
मोहब्बत , जब होती है तो इन्सान सिर्फ कामियाब होने के ही ख्वाब देखता है ,मोहब्बत करने वाले कभी नकारात्मक सोचना भी पसंद नही करते ,लेकिन जब मोहब्बत नाकामी का मुह दिखाती है ,तो इन्सान टूट जाता है। इस गम से उभरने में काफी समय लगता है। लेकिन वक्त की दवा इसके जख्मो का मरह...
 पोस्ट लेवल : मोहब्बत नामा
Aamir  Ali
349
कभी कमेंट्स कभी ईमेल्स दोस्ती का फलसफा , अचानक ही दोस्ती के विषय पर क्या कुछ लिख डाला ,इसका अंदाज़ा उस समय नही हुआ। जब से ये पोस्ट की है तभी से कभी कमेंट्स कभी ईमेल्स ,का सिलसिला चलता रहा। जिनमे ईमेल्स ज्यादा मिले। मुझे लिखते समय इतना अंदाज़ा नही था की इस विषय...
 पोस्ट लेवल : मोहब्बत नामा
Aamir  Ali
349
डियर रीडर्स ,आज कुछ टूटे फूटे अल्फाज़ में दोस्ती का फलसफा लिखता हूँ। दोस्ती एक बहुत ही अज़ीम शय है। जिन्दगी में सब कुछ मिल जाता है मगर अच्छे और सच्चे दोस्त बहुत ही कम मिलते हैं। दोस्त उस हस्ती का नाम है जो अपने दोस्त पर सब कुछ कुर्बान करने का जज्बा रखते हैं। औ...
 पोस्ट लेवल : मोहब्बत नामा