ब्लॉगसेतु

अनीता सैनी
19
प्रति वर्ष आते हो तुम लाखों की तादात में इस बार हुआ क्या ऐसा प्रवासी पक्षी तुम्हारी जान को सर्दियों में मेहमान बन मेरे  मान मेरा बढ़ाते हो  ख़ुशी से सीना मेरा  फूला नहीं समाता है गर्वित हो उठती हूँ देखो !तुम्हारे...
Roli Dixit
163
मूक हो जाते हैं उस पिता के शब्दऔर पाषाण हो जात&#2...
 पोस्ट लेवल : पिता मौत Death कविता
Kajal Kumar
17
Kajal Kumar
17
Yashoda Agrawal
234
'मौत से ठन गई'... ठन गई! मौत से ठन गई! जूझने का मेरा इरादा न था, मोड़ पर मिलेंगे इसका वादा न था, रास्ता रोक कर वह खड़ी हो गई, यूं लगा जिंदगी से बड़ी हो गई.मौत की उमर क्या है? दो पल भी नहीं, जिंदगी सिलसिला, आज कल की नहीं. मैं...
ANITA LAGURI (ANU)
53
बस्तियां- दर- बस्तियां       हुईं  ख़ामोश ,ये फ़ज़ाओं  में कोन-सा      ज़हर घुल गया..!!जहां तक जाती हैं      नज़रें मेरी..!वहां तक लाशों का   शहर बस गया..!!इन सांसों में कैसी,    &...
Sanjay  Grover
393
राजेंद्र यादव ‘हंस’ में कविता सिर्फ़ दो पृष्ठों/पेजों में छापते थे।मुझे याद नहीं ऐसा करने के लिए उन्होंने क्या कारण बताए थे।लेकिन मैं कुछ हिंदी कवियों को पढ़ता रहा हूं, कुछ के साथ भी रहा हूं।पहली बात तो यह मुझे समझ में आई कि हिंदी कवियों की प्रगतिशीलता लगभग झूठी है,...
Kajal Kumar
17
ज्योति  देहलीवाल
112
इन ख़बरों पर गौर कीजिए...• दिल्ली के शालिमार बाग स्थित मैक्स अस्पताल ने जीवित बच्चे को मृत बताया!• गोरखपुर के BRD अस्पताल में 36 बच्चों की मौत!• फर्रुखाबाद में 49 बच्चों की मौत!!• झारखंड के दो बड़े अस्पतालों में पिछले पांंच महीनों के अंदर 300 बच्चों...
Yashoda Agrawal
234
मौत से पूछा जो हमनेदेर कर दी आते आतेमौत अचरज से निहारेदेख मुझको मुस्कुरातेज़िंदगी ने इस कदरलूटी हमारी ज़िंदगीअब तो दिल करता है हर पलमौत की ही बंदगीज़िंदगी तो ख्वाब हैएक दिन मिट जाएगीमौत है असली हकीकतएक दिन टकराएगीमौत से बढ़कर कोई भीचाहने वाला नहींमिल गई एक बार तो फिरछो...