ब्लॉगसेतु

शिवम् मिश्रा
34
अरुणा शानबाग ... हम मे से बहुतों ने 2015 में पहली बार इस नाम और इस नाम से जुड़ी शख़्सियत के बारे मे जाना था | पर अफ़सोस कि इस जान पहचान के पीछे कोई भी सुखद कारण नहीं था | 2015 की खबरों की सुर्खियों मे जगह बनाने वाली अरुणा शानबाग का 18 मई 2015 को निधन हो...
Pratibha Kushwaha
488
महिलाओं की सुरक्षा एक अहम मामला है। मामला अहम इसलिए भी है क्योंकि देश में महिलाओं, किशोरियों और बच्चियों के खिलाफ अपराधों में किसी भी स्तर पर कमी नहीं आई है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए पिछले दिनों एक महत्वपूर्ण कदम उठाया गया। इसकी काफी समय से चर्चा भी चल रही थी।...
विजय कुमार सप्पत्ति
407
निर्भया , पता नहीं तुम किस आसमान में हो... लेकिन मैं तुम्हे बता दू कि यहाँ तुम्हारे देश में कुछ भी नहीं बदला है... सब कुछ वैसे ही है.. आज भी बलात्कार होते ही रहते है......लोग छूट जाते है.. और तो और वो दरिंदा जिसने सबसे ज्यादा अत्याचार तुम पर किये थे.. वो भी छूट र...
शिवम् मिश्रा
34
अरुणा शानबाग ... हम मे से बहुतों ने आज पहली बार इस नाम और इस नाम से जुड़ी शख़्सियत के बारे मे जाना है | पर अफ़सोस कि इस जान पहचान के पीछे कोई भी सुखद कारण नहीं था | आज की खबरों की सुर्खियों मे जगह बनाने वाली अरुणा शानबाग का आज निधन हो गया ... पिछले 42 वर्षों से...
विजय कुमार सप्पत्ति
407
||| यौन अपराध के विरुद्ध एक मोर्चा – भाग तीन ||दोस्तों , भारत में रेप और यौन अपराध स्त्रियों के प्रति सबसे बड़ा घटित होने वाला अपराध है . national Crime Record Bureau के अनुसार २०१० के मुकाबले १.७ गुना और बाद गए है . भारत में हर २० मिनट में कहीं न कहीं , किसी न...
विजय कुमार सप्पत्ति
407
दोस्तों ,मैंने पिछली पोस्ट में आपसे कहा था कि मैं इस सीरीज में बहुत से बातो पर चर्चा करूँगा और उन पर आपकी राय भी चाहूँगा . आज के दुसरे भाग में मैं कुछ बुनियादी बाते आपके साथ शेयर करना चाहता हूँ . पहली बात तो ये है कि अगर हम ये समझते है कि नीचे लिखी इन बातो/ ac...
विजय कुमार सप्पत्ति
407
||| यौन अपराध के विरुद्ध एक मोर्चा - भाग एक ||दोस्तों ,बहुत जल्द मैं यौन अपराधो पर एक लेखन सीरीज शुरू कर रहा हूँ . आप सभी का साथ चाहिए ताकि हम समाज में फैले इस नासूर पर रोक -थाम लगा सके . ये हमारी ही जिम्मेदारी है कि हम अपने आसपास के समाज में एक जागृता ले आये . सीर...
विजय राजबली माथुर
126
 Satya Narayan24-01-2014  महिलाओं के प्रति होने वाले अपराधों का आखिर कारण क्‍या है ?: जो भी बिक सके, उसे बेचकर मुनाफा कमाना पूँजीवाद की आम प्रवृत्ति है। पूँजीवादी समाज के श्रम-विभाजन जनित अलगाव ने समाज में जो ऐन्द्रिक सुखभोगवाद, रुग्ण- स्वच्छन्द यौना...
Arvind Mishra
103
विगत लगभग एक साल से नारी अस्मिता और सम्मान को तारतार करने के ऐसे अप्रिय और शर्मनाक मामले मीडिया के जरिये चर्चित हुए हैं कि हमें खुद के सभ्य  होने पर शंका होने लगी है।  सबसे आश्चर्यजनक तो यह है कि कठोर दंड के प्रावधानों के बावजूद भी इन घटनाओं में बढ़ोत्तरी...
Arvind Mishra
103
दिल्ली में दुबारा दरिन्दगी की वीभत्स दास्तान ने मन विचलित कर दिया है . इन दिनों मीडिया में ऐसी शर्मनाक घटनाओं का काफी कवरेज हो रहा है -क्या इन घटनाओं में अचानक बेतहाशा वृद्धि हुयी है? ऐसा नहीं है -निर्भया काण्ड के बाद इन घटनाओं को बस ज्यादा कवरेज मिल रहा ह...
 पोस्ट लेवल : मुददा यौन अपराध