ब्लॉगसेतु

Sujit Shah
76
केहन छल अो प्रेमकऽ बन्धनजन्म-जन्म सँग रहब कहलौ,प्रेम-प्रितक मिठगर बात कऽ-कऽछोडि कऽ हमरा गेलौ .....!प्रियतम एहन प्रित लागलयाद मे अाखि रहैय जागलअास मिलन के खोजै सदखनकिया एना तड पेलौ प्रियछोडि कऽ हमरा गेलौ .....!अहाविन कोना जियव हम ..?बिख बिछोडक कोना पियब हम..?जनलौ प्...
Sujit Shah
76
हम बादल केर बिछौना परसपनाक सिरमा साटिअकाशक तरेगन सभकेलीला देख' बला मनुखहम अपने कविताक पियास छीहमर सभ अंग जा धरिसाहित्य केर रससँ नै माततता धरि हमरा निन्न नै लागत ....कारण हम साहित्य प्रेमी छीहम अपने टुकड़ी-टुकड़ी भेल मोनप्रेमक बिछोहमे फाटल हिया केरअपन गजलक शेर सभसँपच्...
Sujit Shah
76
पडल  महंग  जे  कनी  हंसि  गेलहुँ  हमअोकर  प्रेमक  जाल मे फसि  गेलहु हम !!छै अोकर  प्रेम  पाकिस्तानी   सुरूङ सनबिच   बाटेमे जा मिता  धसि  गेलहुँ  हम !!मारि  मुस्कि अो नयन...
Bharat Tiwari
25
राजदीप देसाई : मेरी बातसुप्रीम कोर्ट के द्वारा एक बड़ा कदम उठाते हुए, तीन तलाक़ को असंवैधानिक क़रार देने से, इस्लामिक शरीयत के तहत, पीछे धकेलने वाली सामाजिक प्रथा का अंत हुआ है। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); सन्देश स्पष्ट है कि अनुच्छेद 25 के...
Bharat Tiwari
25
Varnika Kunduमेरी बात— राजदीप सरदेसाईवर्णिका (Varnika Kundu) के साथ जो हुआ वह  हमारी किसी भी बेटी की कहानी हो सकती है। क्योंकि वह एक आईएस ऑफिसर की बेटी है तो हो सकता है, अपना पीछा करने वालों —  जिनमें से एक राज्य बीजेपी अध्यक्ष का बेटा है — से मुकाबला करन...
Bharat Tiwari
25
राजनीतिक दोगलेपन ढंकते नारों का पर्दा...Rajdeep Sardesai‘हम नरेंद्र मोदी, अमित शाह और आरएसएस को हराकर धर्मनिरपेक्षता का बचाव करने के लिए एकजुट हो रहे हैं,’ अपने खास अंदाज़ में लालू यादव ने सितंबर 2015 में बिहार विधानसभा चुनाव के ठीक पहले मुझे दिए इंटरव्यू में कहा था...
Bharat Tiwari
25
जब मीडिया संस्थानों का मालिक कौन है —  पता ही नहीं हो, तब नेताओं और उनकी भाड़े की सेनाओं के लिए हमें ‘प्रेस्टीट्यूटस’ कहना आसान हो जाता है।कभी स्वयं बेहद लोकप्रिय और बातचीत पसंद बीजेपी प्रवक्ता रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद को मीडिया के सवालों की पहुँच स...
Bharat Tiwari
25
प्रशंसकों के बीच सेल्फी खिंचवाते राजदीप सरदेसाई (फ़ोटो: भरत तिवारी)कांग्रेस का दोहरापन तत्काल उजागर हो जाएगा — राजदीप सरदेसाई1985 में जब सैटेलाइट टेलीविजन आया नहीं था, जनमत बनाने में मीडिया की सीमित भूमिका ही थी। अब सातों दिन-चौबीसों घंटे खबरों और सोशल मीडिया के अंत...
जन्मेजय तिवारी
454
                     चित्र साभार- cariblah.wordpress.com      अचानक जैसे ही टीवी चैनलों ने ब्रेकिंग न्यूज चलाना शुरू किया, मेरे कुछ पल के आराम को...
Bharat Tiwari
25
क्या कश्मीर के अन्दर और बाहर कोई है जो अंतरात्मा की सुन सर ऊँचा रख सके?राजदीप सरदेसाईIn English:: Kashmir: You can't win hearts and minds with military force #RajdeepSardesai  (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); कश्मीर की वास्तविक...