ब्लॉगसेतु

3
--हमारे देश में मजदूर की, किस्मत हुई खोटीमयस्सर है नहीं ढंग से, उन्हें दो जून की रोटी--दलाली में लगे हैं आज, अपने देश के सेवकबगावत भी करे कैसे, वहाँ दो जून की रोटी--करे क्या झोंपड़ी फरियाद, महलों की मिनारों सेहमेशा ही रही कंगाल, है दो जून की रोटी--जो ढोते ईंट भट्टे...
 पोस्ट लेवल : ग़ज़ल दो जून की रोटी
रवीन्द्र  सिंह  यादव
241
पत्थर हुआ जाता हैरोटी का कड़क कौरजल के प्यासे होने काआया है भयावह दौरआत्मा को तलाश है मिले कहीं सुकून का ठौरजहाँ स्वार्थ का हिसाब न बना हो सिरमौर  एक अंतरध्वनि अब सोने नहीं देतीसड़कों पर तड़पते, बिलखते  आत्मनिर्भर(?) भारत की तस्वीर...श्रम...
ज्योति  देहलीवाल
59
दोस्तों, आलू का स्टफ्ड पराठा बनाने थोड़ा समय लगता हैं। यदि आप कम समय में स्वादिष्ट पराठे बनाना चाहते हैं, तो आलू चाट पराठा जरूर ट्राय कीजिए। ये पराठे बहुत खस्ता बनते हैं। वैसे भी अभी लॉकडाउन के कारण बच्चे और पतिदेव सब घर में होने से रोज-रोज नया क्या बनाएं इस बात का...
विजय राजबली माथुर
166
स्पष्ट रूप से पढ़ने के लिए इमेज पर डबल क्लिक करें (आप उसके बाद भी एक बार और क्लिक द्वारा ज़ूम करके पढ़ सकते हैं
समीर लाल
287
Ingredients:सत्तु – Sattu -  2 Cupसरसों का तेल – Mustard Oil – 4 Spoonखाने का तेल - Cooking Oil – 2 Spoonप्याज – Onion – 1 Mediumहरी मिर्च -  Green Chilli – 2अदरक – Ginger – 1/2  Inchअजवाईन – Carom Seed – 1/4  Tea Spoonनमक - Salt – 1/2  Tea...
Saransh Sagar
196
सात्विक रोटी बनाने का तरीका Detox Roti Recipe | Satvic Movement  Share In Whatsapp  सारांश सागर द्वारा प्रकाशित किया गया अनुभव को सारांश में बताकर स्वयं प्रेरित होकर सबको प्रेरित करना चाहता हूँ !        &n...
सुशील बाकलीवाल
327
         रोज़ की तरह आज फिर वो ईश्वर का नाम लेकर उठी,  किचन में आई, चूल्हे पर चाय का पानी चढ़ाया फिर बच्चों को नींद से जगाया ताकि वे स्कूल के लिए तैयार हो सकें । कुछ ही पलों मे वो अपने सास-ससुर को चाय देकर आयी फिर बच्चो...
रवीन्द्र  सिंह  यादव
241
ये ऊँची मीनारें  इमारतें बहुमंज़िला रहते इंसान ज़मीर से मुब्तला। वो बाढ़ क़हर न झोपड़ी न रही रोटी राहत फंड से कौन करेगा मौज़। © रवीन्द्र सिंह यादव
3
फूली रोटी देखकर, मन होता अनुरक्त।हँसी-खुशी से काट लो, जैसा भी हो वक्त।१।--फूली-फूली रोटियाँ, सजनी रही बनाय।बाट जोहती है सदा, कब साजन घर आय।२।--घर के खाने में भरा, घरवाली का प्यार।सजनी खाने के लिए, करती है मनुहार।३।--फूली-फूली रोटियाँ,&...
 पोस्ट लेवल : दोहे रोटी भरती पेट
ज्योति  देहलीवाल
59
कोई भी त्यौहार हो या शादी-ब्याह, पूरी के बिना खाना अधुरा हैं। पूरी बनती तो हर घर में हैं। लेकिन हर कोई फूली फूली और करारी पूरी बनाने के सारे राज नहीं जानता। इसलिए 'आपकी सहेली' बता रहीं हैं, फूली फूली और करारी पूरी बनाने के सारे राज..... सामग्री- ingredient to...
 पोस्ट लेवल : रसोई पूरी रोटी