ब्लॉगसेतु

Kheteswar Boravat
48
..............................
Kheteswar Boravat
48
..............................
Kheteswar Boravat
48
..............................
Kheteswar Boravat
48
..............................
Kheteswar Boravat
48
..............................
Kheteswar Boravat
48
..............................
Kheteswar Boravat
48
..............................
राजीव कुमार झा
357
रोना मनुष्य को प्रकृति की ओर से मिला एक जन्मजात तोहफ़ा है,क्योंकि इस दुनियां में प्रवेश करते ही मनुष्य का पहला काम होता है रोना.शिशु का क्रंदन सुनकर ही जच्चाखाने के बाहर प्रतीक्षारत सगे-संबंधी समझते हैं कि बच्चा इस दुनियां में आ गया.उसके बाद आदमी न जाने कितनी बार रो...
girish billore
98
..............................
girish billore
98
..............................