मेरा लिखना, लिखना क्या अगर वह विवादित नहींसूरज को सूरज और चांद को चांद तो सब कहते हैंअगर मैं सूरज को चांद न कहूँ तो इनको परिभाषित कौन करेअगर मैं तुम्हारी तरह हाँ में हाँ मिलाकर उनसे कुछ न बोलूंजिनके भक्त बन जाते हैं और अनुयायी पैमाने पर चलते हैंतो मैं भी भक्त ही कह...