ब्लॉगसेतु

sanjiv verma salil
6
बहुमुखी प्रतिभा के धनी आचार्य संजीव वर्मा "सलिल" विजय प्रशांत दिल्ली *सलिल जी का नाम हिंदी साहित्यकारों में बड़ी श्रद्धा से लिया जाता है | अनेक पुस्तकों के रचनाकार श्री सलिल जी लगभग तीन दशकों से गद्य पद्य की सभी विधाओं में अपनी लेखनी से हिंदी साहित्य को सम...
sanjiv verma salil
6
लघु कथा विजय दिवस * करगिल विजय की वर्षगाँठ को विजय दिवस के रूप में मनाये जाने की खबर पाकर एक मित्र बोले- 'क्या चोर या बदमाश को घर से निकाल बाहर करना विजय कहलाता है?' ''पड़ोसियों को अपने घर से निकल बाहर करने के लिए देश-हितों की उपेक्षा, सीमाओं की अनदेखी, राजनैतिक...
कुमार मुकुल
416
विजयकांत की कहानियों से गुजरते स्मृति में पिछले वर्षों सहरसा कमिश्नरी में दुर्गा पूजा के अवसर पर घोड़े दौडाते मररों की याद कौंध जाती है। दौड़ आज भी जारी है, हर हर महादेव के नारे लगाते वह घुड़सवार सहरसा की गलियां रौंद डालते थे, फिर तेल पिलाई देह वाले यह बैठक बाज कुश...
Bharat Tiwari
19
मार्क्सवाद का अर्धसत्य के बहाने एकालाप— पंकज शर्माअनंत ने पूरी दुनियाभर के जनसंघर्षों को एक नया आयाम प्रदान करने वाले महानायक के निजी जीवन संदर्भों के हवाले से उन्हें खलनायक घोषित कर दिया और भारतीय सामाजिक परंपरा के परिप्रेक्ष्य में उनका मूल्यांकन करने के फिराक में...
अमितेश कुमार
174
विजय कुमार को टेलीविजन और सिनेमा में अलग अलग तरह की भूमिकाओं में देखा और सराहा गया है लेकिन उनकी वास्तविक भूमि रंगमंच है जहाँ वो अभिनेता, निर्देशक और प्रशिक्षक की भूमिका में सक्रिय है. 'हम बिहार में चुनाव लड़ रहे हैं'  इस  प्रस्तुति को देखना एक अनुभव है....
anup sethi
284
विष्णु खरे जी की यह बातचीत चिंतनदिशा के हाल के अंक में यानी 2019 अंत में छपी है। इसकी शुरुआती रिकॉर्डिंग 2012 में रमेश राजहंस के घर पर रात के खाने पर हुई। बातचीत करने के लिए पत्रिका से जुड़े हुए लेखक थे - हृदयेश मयंक, विनोद श्रीवास्तव, रमेश राजहंस, शैलेश सिंह। रिकॉ...
Asha News
83
16 दिसंबर की तारीख आते ही हर भारतीय को साल 1971 याद आ जाता है। यह वही तारीख जब भारत और पाकिस्तान युद्ध में भारत की सबसे बड़ी जीत हुई थी। 3 दिसंबर को पाकिस्तान ने भारत के 11 एयरफील्ड्स पर हमला किया था। इसके बाद यह युद्ध शुरू हुआ और महज 13 दिन में भारतीय जांबाजों ने प...
अनीता सैनी
56
दर्द ३९००शहीद जाँबाज़ जवानों कासीने में उभर आयासंजीदा साये सिहर उठे होंगे उनके भी मौजूदा हालात देख देश केशिथिल शब्दों में हुई होगी गहमागहमी उनके भीआपस में वे भी बोल उठे होंगेक्यों किया तकल्लुफ़ चीख़ते सन्नाटे नेक्यों सुनाया संदेश सर्द हवाओं नेयही एहसासात&nbs...
Basudeo Agarwal
168
(8, 8, 8, 8 पर यति अनिवार्य।प्रत्येक यति के अंत में हमेशा लघु गुरु (1 2) अथवा 3 लघु (1 1 1) आवश्यक।आंतरिक तुकान्तता के दो रूप प्रचलित हैं। प्रथम हर चरण की तीनों आंतरिक यति समतुकांत। दूसरा समस्त 16 की 16 यति समतुकांत। आंतरिक यतियाँ भी चरणान्त यति (1 2) या (1 1 1) के...
3
गौरय्या का नीड़, चील-कौओं ने हथियाया हैहलो-हाय का पाठ हमारे बच्चों को सिखलाया है--जाल बिछाया अपना, छीनी है हिन्दी की बिन्दी भीअपने घर में हुई परायी, अपनी भाषा हिन्दी भीखोटे सिक्के से लोगों के मन को बहलाया हैहलो-हाय का पाठ हमारे बच्चों को सिखलाया है--हिन्दीभाषा से ह...