ब्लॉगसेतु

Neeraj Kumar Neer
205
प्रस्तुत है मेरी एक कविता  लहूलुहान मानवताअगर कविता पसंद आए तो इसे लाइक करें एवं अन्य ऐसी कवितायें सुनने के लिए मेरे चैनल को subscribe करें। धन्यवाद । 
 पोस्ट लेवल : विडियो
सतीश सक्सेना
97
विश्व में हमारे अलावा अन्य कितने ही जीव हैं , जो हमारी तरह सांस लेते हैं, सोते हैं, जागते हैं, भोजन करते हैं , बात करते हैं, चलते हैं,उड़ते हैं मगर बहुत कम इंसान हैं जो अपने पूरे जीवन में कभी अन्य जीवों के बारे में  सोंचते भी हैं और निश्चित ही यह कमी मानव जीवन...
यूसुफ  किरमानी
207
 अक्सर लोग सवाल करते हैं कि आखिर अपने से ताकतवर या मजबूत को चुनौती कैसे दी जाए। यह सवाल पूरी दुनिया में तब ज्यादा उठते हैं जब कोई देश, कोई सत्ता, कोई खलनायक अपनी ताकत के नशे में चूर हो जाता है। उस हालत या हालात में अगर उसे चुनौती नहीं मिलती है तो वह तानाशाह बन...
Bharat Tiwari
27
वन्दे मातरममोगुबाई कुरदीकर और विद्या शाहमोगुबाई कुरदीकर:: ग्रामोफ़ोन के समय में महिलाओं ने भारतीय कला, संगीत और साहित्य की क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान दिया और थिएटर व फ़िल्म से जुड़ी रहीं. और इसके बाद उनका ‘प्रदर्शन संगीत’ पर गहरा प्रभाव रहा. दुखद बाद यह है उन...
Bharat Tiwari
27
मेरे प्रधानमंत्री बच्चों की मौत पर खामोश क्यों योगीजी यह क्या कह दिया? —अभिसार शर्मा (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); गोरखपुर हादसे पर, योगी के समवेदनहीन बयान पर और मोदी की खामोशी पर अभिसार शर्मा  Abhisar Sharma's Video Blog on PM M...
Bharat Tiwari
27
Ravish Kumar (Photo (c) Bharat Tiwari)पिछला चैप्‍टर— रवीश कुमारहम भूलते रहें वो खेलते रहें. यह खेल जबतक खेल है कोई दिक्कत नहीं, न आपको, न उनको... क्योंकि दोनों ही मर्ज़ीनुसार पाले बदल रहे होते हैं. लेकिन जब पालों के बदलने के कारणों में — किसी लिन्चिंग-खून के धब्बे,...
Bharat Tiwari
27
नयन की मत मारो तलवरियामालिनी अवस्थी  (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); शब्दांकन Shabdankan▲▲लाइक कीजिये अपडेट रहिये०००००००००००००००० (function(i,s,o,g,r,a,m){i['GoogleAnalyticsObject']=r;i...
Bharat Tiwari
27
विश्वजीत राय चौधरीसरोद  (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); शब्दांकन Shabdankan▲▲लाइक कीजिये अपडेट रहिये०००००००००००००००० (function(i,s,o,g,r,a,m){i['GoogleAnalyticsObject']=r;i[r]=i[r]||fun...
Bharat Tiwari
27
हिंदी कविता : Ek Bhasha Hua Karti Hai उदय प्रकाश: Uday Prakash एक भाषा हुआ करती हैजिसमें जितनी बार मैं लिखना चाहता हूं `आंसू´ से मिलता जुलता कोई शब्दहर बार बहने लगती है रक्त की धार (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); एक भाषा है जिसे बोलते व...
Bharat Tiwari
27
15 मई 2017 सुबह 9 के आसपासहमें मई की दिल्ली में सुबह ही हो जाने वाली गर्मी और 3 घंटे से चल रहे फ़ोटोशूट की दौड़ ने शारीरिक और मानसिक थका दिया था। इंडिया गेट लॉन्स के बाद हुमायूँ के मकबरे में पहुँचे उस्ताद निशात खान, फ़्रांसीसी डिज़ाइनर ओलिविया और मैं जब फ़ोटो खींचते-खीं...