ब्लॉगसेतु

शिवम् मिश्रा
32
मेजर संदीप उन्नीकृष्णन (15 मार्च 1977 - 28 नवम्बर 2008) अशोक चक्र (मरणोपरांत) संदीप उन्नीकृष्णन (15 मार्च 1977 -28 नवम्बर 2008) भारतीय सेना में एक मेजर थे, जिन्होंने राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड्स (एनएसजी) के कुलीन विशेष कार्य समूह में काम किया. वे नवम्बर 2008...
शिवम् मिश्रा
425
आज़ादी मुफ़्त नहीं मिलती, इस की असली कीमत हमारे वीर सैनिक चुकाते हैं। अपने सैनिकों और सेना का सम्मान करना सीखिए।   जिन का आदर्श वाक्य, स्वधर्मे निधनं श्रेयः (कर्तव्य पालन करते हुए मरना गौरव की बात है।) हो, उन से इस से कम की कोई अपेक्षा की भी नहीं जा सकती।"वीरा...
विजय राजबली माथुर
128
JNews FeedM.s. RanaJanuary 10 at 1:25amरामप्रसाद बिस्मिल ने अपनी शहादत से पहले जनता के नाम यह वसीयत की थी कि “यदि देशवासियों को हमारे मरने का ज़रा भी अफसोस है तो वे जैसे भी हो हिन्दू-मुस्लिम एकता क़ायम करें। यही हमारी आखिरी इच्छा थी, यही हमारी यादगार हो सकती है।”......
राजेश कश्यप
260
राजेश कश्यप को राजा नहर सिंह अवार्ड से सम्मानित करते हुए केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री चौधरी बिरेन्द्र सिंह राजेश कश्यप ‘अमर शहीद राजा नाहर सिंह अवार्ड-2016’ से सम्मानित     युवा पत्रकार एवं समाजसेवी राजेश कश्यप को रचनात्मक लेखन व उत्कृष्ट...
शिवम् मिश्रा
32
मेजर संदीप उन्नीकृष्णन (15 मार्च 1977 - 28 नवम्बर 2008) अशोक चक्र (मरणोपरांत) संदीप उन्नीकृष्णन (15 मार्च 1977 -28 नवम्बर 2008) भारतीय सेना में एक मेजर थे, जिन्होंने राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड्स (एनएसजी) के कुलीन विशेष कार्य समूह में काम किया. वे नवम्बर 2008...
शिवम् मिश्रा
32
  ७ साल पहले आज ही के दिन मुंबई घायल हुई थी ... वो घाव आज भी पूरी तरह नहीं भरे है ...   केवल सैनिक ही नहीं ... हर एक इंसान जिस ने उस दिन ... 'शैतान' का सामना किया था ... नमन उन सब को ! ============जाते जाते एक वीडियो आप सब की नज़र है ... =======...
 पोस्ट लेवल : शहीद 26/11 मुंबई आतंकवाद
विजय कुमार सप्पत्ति
263
दोस्तों , मेरी ये नज़्म , उन सारे शहीदों को मेरी श्रद्दांजलि है , जिन्होंने अपनी जान पर खेलकर , मुंबई को 26 / 11  को आतंक से मुक्त कराया. मैं उन सब को शत- शत बार नमन करता हूँ. उनकी कुर्बानी हमारे लिए है ............!!!शहीद हूँ मैं .....मेरे देशवाशियोंजब कभी आप...
sanjiv verma salil
5
शर्मनाक:http://divyanarmada.blogspot.in/
शिवम् मिश्रा
32
"अहिंसा को आत्म-बल के सिद्धांत का समर्थन प्राप्त है जिसमे अंतत: प्रतिद्वंदी पर जीत की आशा में कष्ट सहा जाता है . लेकिन तब क्या हो जब ये प्रयास अपना लक्ष्य प्राप्त करने में असफल हो जाएं ? तभी हमें आत्म -बल को शारीरिक बल से जोड़ने की ज़रुरत पड़ती है ताकि हम अत्या...
राजेश कश्यप
260
27 जून/शहीदी दिवस विशेषकब मिलेगा शहीद उदमी राम के वंशजों को सम्मान?- राजेश कश्यपक्रांतिवीर उदमी राम और उसकी पत्नी रत्नी देवी          बड़ी विडम्बना का विषय है कि जिस नंबरदार उदमी राम ने 1857 की क्रांति के दौरान अपने देश के लिए अपनी जान को क...