ब्लॉगसेतु

kumarendra singh sengar
19
पिछले दिनों वर्तमान परिदृश्य में तनाव मुक्त शिक्षा विषय पर मुख्य वक्ता के रूप में सहभागिता करने का अवसर मिला. ऐसे विषय जो किसी न किसी रूप में मनोविज्ञान से जुड़े होते हैं, उन पर चर्चा करना, उनका अध्ययन करना शुरू से हमें पसंद आता रहा है. महाविद्यालय के विद्यार्थियों...
Pratibha Kushwaha
479
देश की गुलामी के दौर में शिक्षा कुछ जातीय वर्गों और जेंडर स्तर पर पुरुषों तक ही सीमित थी। ऐसे में जागरुकता और समाज सुधार की दृष्टि से सभी में शिक्षा के प्रसार की आवश्यकता महसूस हुई। इसलिए इस दौर में स्त्री शिक्षा की जरूरत को भी अत्यधिक बल दिया गया। यह सर्वसिद्ध तथ्...
Asha News
88
जवाहर नवोदय विद्यालय झाबुआ में पीटीसी की बैठक संपन्नझाबुआ। जवाहर नवोदय विद्यालय क्रमांक-1 झाबुआ में 4 अक्टूबर, शुक्रवार को समग्र अभिभावक पीटीसी की बैठक का आयोजन संस्था प्राचार्य अब्दुल हमीद के मार्गदर्शन एवं अध्यक्षता में हुआ। जिसमें विभिन्न बिंदुओं पर चर्चा कर आवश...
Asha News
88
झाबुआ। आईसेक्ट कौशल विकास यात्रा 2019-20 का आयोजन आईसेक्ट के रीजनल मैनेजर जितेन्द्र पांडेय के नेतृत्व में इंदौर संभाग में किया जा रहा है। यह यात्रा इंदौर से शुरू हुई, 26 सितंबर गुरूवार को यात्रा के झाबुआ आगमन पर स्थानीय राजगढ़ नाके पर आईसेक्ट झाबुआ की ओर से भव्य स्व...
 पोस्ट लेवल : शिक्षा education आईसेक्ट
Asha News
88
व्यापारी संघ के पदाधिकारियों ने दीप प्रज्जवलन कर किया शुभारंभ  झाबुआ। शहर के काॅलेज मार्ग पर मोटिव कम्प्यूटर सेंटर के द्वितीय तल स्पायर अकादमी का शुभारंभ 19 सितंबर, गुरूवार शाम से सकल व्यापारी संघ के सहयोग से हुआ। शुभारंभ सकल व्यापारी संघ के वरिष्ठ स...
अजय  कुमार झा
464
पिछले कुछ समय से न्यायपालिका से जिस तरह की खबरें निकल कर सामने आ रही हैं वो कम से कम ये तो निश्चित रूप से ईशारा कर रही हैं कि , न्यायपालिका की प्रतिबद्धता और जनता के बीच बना हुआ उनके प्रति विश्वास अब पहले जैसा नहीं रह पायेगा | रहे भी कैसे एक के बाद एक नई नई घटनाएं...
Saransh Sagar
228
ट्रेन दोपहर ३ बजे की थी और कड़की सर्दी का मौसम था !! कोहरा होने के कारण ट्रेन रात 9 PM बजे की हो गयी पर ट्रेन पकड़ने से पहले एक बार नेट पर चेक करना सबने उचित समझा तो भाई ने 7 PM बजे नेट पर चैक करके बताया कि गाड़ी अब रात 11 PM बजे की है !! मै शादी में नही जा रहा था लेक...
Saransh Sagar
228
‘‘तो कितने दिनों के लिए जा रही हो ?’’ प्लेट से एक और समोसा उठाते हुए दीपाली ने पूछा. ‘‘यही कोई 8-10 दिनों के लिए,’’ सलोनी ने उकताए से स्वर में कहा !औफिस के टी ब्रेक के दौरान दोनों सहेलियां कैंटीन में बैठी बतिया रही थीं !सलोनी की कुछ महीने पहले ही दीपेन से नईनई शादी...
Saransh Sagar
228
एक सभ्रांत प्रतीत होने वाली अति सुन्दरी ने विमान में प्रवेश किया और अपनी सीट की तलाश में नजरें घुमाईं । उसने देखा कि उसकी सीट एक ऐसे व्यक्ति के बगल में है जो जिसके दोनों ही हाथ नहीं है। महिला को उस अपाहिज व्यक्ति के पास बैठने में झिझक हुई !उस 'सुंदर' महिला ने...
Saransh Sagar
228
एक सेठ जी बहुत ही दयालु थे , धर्म-कर्म में यकीन करते थे । उनके पास जो भी व्यक्ति उधार मांगने आता,वे उसे मना नहीं करते थे । सेठ जी मुनीम को बुलाते और जो उधार मांगने वाला व्यक्ति होता उससे पूछते कि "भाई ! तुम उधार कब लौटाओगे ? इस जन्म में या फिर अगले जन्म में ?" जो ल...