.... पिछले अंक से जारी ....रात को माईंजी ने फिर कई बार PCO पर मुझे भेज कर विष्णू को फोन करने को कहा। जो नंबर उन्होने दिया उस पर कोई और उठाता था और विष्णू को जानने से इंकार करता था। दिन का तो भुगतान माईंजी ने सब कर दिया था,इस वक्त मेरे रुपए बर्बाद हो रहे थे। यशवन्त...