ब्लॉगसेतु

सुशील बाकलीवाल
407
         हिंदू धर्म में यह परम्परा है कि किसी भी मंदिर में दर्शन के बाद बाहर आकर मंदिर की पेढी या ओटले पर दो मिनिट तो बैठना ही चाहिये । क्या आप जानते हैं कि इस परम्परा के पीछे कारण क्या है ?          &nbsp...
sanjiv verma salil
6
संस्कृत - चमत्कारी भाषा*एकाक्षरी श्लोकमहाकवि माघ ने अपने महाकाव्य 'शिशुपाल वध' में एकाक्षरी श्लोक दिया है -दाददो दुद्ददुद्दादी दाददो दूददीददोः ।दुद्दादं दददे दुद्दे दादाददददोऽददः ॥ १४४अर्थ - वरदाता, दुष्टनाशक, शुद्धक, आततायियों के अंतक क्षेत्रों पर पीड़क शर का संधान...
sanjiv verma salil
6
नवरात्रि और सप्तश्लोकी दुर्गा स्तोत्र (हिंदी काव्यानुवाद सहित)*नवरात्रि पर्व में माँ दुर्गा की आराधना हेतु नौ दिनों तक व्रत किया जाता है। रात्रि में गरबा व डांडिया रास कर शक्ति की उपासना तथा विशेष कामनापूर्ति हेतु दुर्गा सप्तशती, चंडी तथा सप्तश्लोकी दुर्गा पाठ कि...
sanjiv verma salil
6
पुराणों में श्लोक संख्यासुखसागर के अनुसारःब्रह्मपुराण में श्लोकों की संख्या १४००० और २४६ अद्धयाय है|पद्मपुराण में श्लोकों की संख्या ५५००० हैं।विष्णुपुराण में श्लोकों की संख्या तेइस हजार हैं।शिवपुराण में श्लोकों की संख्या चौबीस हजार हैं।श्रीमद्भावतपुराण में श्लोकों...
sanjiv verma salil
6
सप्तश्लोकी दुर्गा स्तोत्र हिंदी काव्यानुवाद सहित *नवरात्रि पर्व में मां दुर्गा की आराधना हेतु नौ दिनों तक व्रत किया जाता है। रात्रि में गरबा व डांडिया रास कर शक्ति की उपासना की जाती है। विशेष कामनापूर्ति हेतु दुर्गा सप्तशती, चंडी तथा सप्तश्लोकी दुर्गा पाठ किया...
Bhavna  Pathak
82
आज शिक्षक दिवस  के दो रंग देखने को मिले। एक था परम्परागत रूप जो मैं  अपने छात्र जीवन से देखता आया हूं। इसमें आज भी एक दिन के लिए ही सही गुरुजनों का सम्मान किया जाता है। उनके सम्मान में गरिमामयी संस्कृत के - गुरूर् ब्रह्मा गुरूर् विष्णो ... जैसे श्लोक, गुर...
sanjiv verma salil
6
जीवन सूत्र *श्लोक:"विषभारसहस्रेण गर्वं नाऽऽयाति वासुकिः। वृश्चिको बिन्दुमात्रेण ऊर्ध्वं वहति कण्टकम्।।"*दोहानुवाद:अतुलित विष गह वासुकी, गर्व न कर चुपचाप।ज़हर-बूँद बिच्छू लिए, डंक उठाए नाप।।* अर्थ:वासुकी बिच्छू की तुलना में हजार गुना अधिक ज़हर होने पर भी गर्व नहीं क...
sanjiv verma salil
6
नवरात्रि और सप्तश्लोकी दुर्गा स्तोत्र हिंदी काव्यानुवाद सहित)* नवरात्रि पर्व में मां दुर्गा की आराधना हेतु नौ दिनों तक व्रत किया जाता है। रात्रि में गरबा व डांडिया रास कर शक्ति की उपासना तथा विशेष कामनापूर्ति हेतु दुर्गा सप्तशती, चंडी तथा सप्तश्लोकी दुर्गा पाठ कि...
sanjiv verma salil
6
नवरात्रि और सप्तश्लोकी दुर्गा स्तोत्र हिंदी काव्यानुवाद सहित)*नवरात्रि पर्व में  मां दुर्गा की आराधना हेतु नौ दिनों तक व्रत किया जाता है।  रात्रि में गरबा व डांडिया रास कर शक्ति की उपासना की जाती है। विशेष कामनापूर्ति हेतु दु...
अर्चना चावजी
76
॥ भगवतीपद्यपुष्पाञ्जलीस्तोत्रान्तर्गतं महिषासुरमर्दिनिस्तोत्रम् ॥अयि गिरिनन्दिनि नन्दितमेदिनि विश्वविनोदिनि नन्दनुतेगिरिवरविन्ध्यशिरोधिनिवासिनि विष्णुविलासिनि जिष्णुनुते ।भगवति हे शितिकण्ठकुटुम्बिनि भूरिकुटुम्बिनि भूरिकृतेजय जय हे महिषासुरमर्दिनि रम्यकपर्दिनि शैलसु...
 पोस्ट लेवल : श्लोक प्रार्थना