ब्लॉगसेतु

S.M. MAsoom
41
एस एम् मासूम ( Cont: 9452060283)इस इन्टरनेट कि दुनिया मैं जितनी अधिक स्पैम (अवांछनीय) वेबसाइट घर बैठे या ऑनलाइन कैसे कमाएं पे बनी है शायद किसी और विषय पे नहीं बनी | दूसरा महिलाओं को  फंसाने वाला तरीका है  वो है फिल्म मैं काम करने के लिए संपर्क करें जैस...
S.M. MAsoom
77
जब मुहर्रम आता है हुसैनी अलम ताजिया लिए नौहा मातम करते पूरी दुनिया में दिखने लगते हैं |यह यकीनन सोंचने  की बात है की कर्बला का वाकेया आज १४०० साल पुराना है फिर भी इमाम हुसैन (अ.स) के चाहने वाले इसे ऐसे मनाते है जैसे यह अभी कल की ही बात हो | क्यूँ? इमाम हु...
S.M. MAsoom
41
जौनपुर मेरा वतन है मेरी पहचान है और यहाँ के लोगों से मुझे प्रेम है इसीलिये मैंनेअपनी व्यस्ततासे समय निकाल के जौनपुर की पहली द्वीभाषीय वेबसाइट बनायीं और कोशिश करता रहा की इसकी अहमियत को वहां के लोग पहचाने और वो भी अपनी आवाज़ दुनिया तक पहुंचा सकें | जौनपुर के लोगों न...
S.M. MAsoom
41
जी हाँ जनाब यह एक ऐसा एहसास है जो अक्सर लोगों को कुछ खास पसंदीदा काम करने में आता है. नेक इंसान को किसी की मदद करने में फील गुड का एहसास होता है तो बुरे इंसान को लूट,चोरी,बुराई इत्यादि बुरे काम करने में यह एहसास पैदा हुआ करता है.आज के समाज में इंसान अकेलेपन का शिका...
S.M. MAsoom
41
बलात्कार इत्यादि की घटनाएं केवल शहरों तक ही सीमित नहीं बल्कि गाँव में इनके पैर अधिक फैले हुए हैं और अधिकतर मामले तो आपसी समझौते से, पंचायत द्वारा या कुछ ले दे के निपट जाया करते हैं या फिर समाज में बदनामी के डर से सामने ही नहीं आते |इन घटनाओं में केवल बलात्कार ही नह...
S.M. MAsoom
41
ये लगता सच है लेकिन हैं नहीं | आज का युग सोशल मीडिया का युग है जहां लोग फेसबुक ,ट्विटर इत्यादि के उपयोग से अपने सप्रक बनाया करते हैं | फेसबुक ,ट्विटर एक खुला प्लेटफ़ॉर्म है जहां हर तरह के लोग अपना प्रोफाइल बनाए बैठे हैं जिनमे केवल सही नाम वाले होंगे ये मान के चलना ब...
S.M. MAsoom
41
दीवाली का पर्व हम सबको आत्मचिन्तन एवं आत्मनिरीक्षण का सन्देश देता है। यह पर्व अन्धकार पर प्रकाश की विजय का प्रतीक भी है।  आप सभी को दीपावली के पवन पर्व पे हमारा जौनपुर और जौनपुर सिटी डॉट इन की टीम की तरफ से हार्दिक शुभकामनाएं दीपों के इस उल्लासमय त्योहार पर ह...
S.M. MAsoom
41
विश्व भर में अपनी बात लोगों तक पहुंचाने के लिए आज सोशल मीडिया  का इस्तेमाल हर छेत्र में किया जा रहा है | कोई भी साहित्यकार ,पत्रकार या  राजनेता हो कामयाब तभी कहलाता है जब वो अपनी आवाज़ अपनी बात अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचा सके |  जब ये प्रतिभाशाल...
 पोस्ट लेवल : संपादकीय editorial
S.M. MAsoom
41
हुदहुद चक्रवात बंगाल की खाड़ी में उत्तरी अंडमान के पास ९ अक्टूबर से उठा है और अब यह आंध्रप्रदेश और ओडिशा की तरफ़ तेज़ी से बढ़ रहा है| मौसम विभाग के अनुसार हुदहुद के कारण 140-१८० किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से तेज़ हवाएं चल सकती हैं|इस तूफ़ान क...
S.M. MAsoom
155
कल किताबों में एक १५० साल पुरानी अनामी डायरी मिली जिसके लेखक ने बखूबी एक ऐसे शख्स की डायरी के कुछ पन्नो का ज़िक्र किया जो अपने दिल की बात किसी से कह ना सका | एक शख्स ऐसा था जिसने अपने जीवन में बहुत सी ऊँचाइयाँ ,इज्ज़त और शोहरत देखी की अचानक कुछ कारणवश उसका सब कुछ...
 पोस्ट लेवल : संपादकीय amankapaigham Editorial