ब्लॉगसेतु

usha kiran
393
बारह ज्योतिर्लिंगों में से एक महाकालेश्वर भगवान का यह मंदिर प्रमुख मंदिरों में से एक माना जाता है इसके दर्शन की बहुत अभिलाषा थी । मान्यता है कि बारह ज्योतिर्लिंगों में से सिर्फ़ यहाँ पर ही दक्षिण मुखी शिवलिंग हैं । इस मंदिर का उल्लेख महाभारत,पुराणों व कालिदास के ग्...
 पोस्ट लेवल : सफरनामा
Krishna Kumar Yadav
58
71वें गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर लखनऊ जीपीओ रंगीन रोशनी में नहाया नजर आया। रंग-बिरंगी लड़ियों से जीपीओ को सजाया गया है। लखनऊ मुख्यालय परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवाएँ श्री कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि लखनऊ जीपीओ  ऐतिहासिक होने के साथ-साथ राजधानी के चुनिन्दा...
Krishna Kumar Yadav
58
डाक विभाग दिनों-ब-दिन अपने को अद्यतन कर रहा है, चाहे वह सेवाओं का मामला हो या टेक्नालॉजी का। वर्ष 2019 में भी डाक सेवाओं में तमाम नवाचार हुए। लखनऊ (मुख्यालय) परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवाएँ कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि वर्ष 2019 में ग्रामीण डाकघरों को टेक्नोलॉजी से...
YASHVARDHAN SRIVASTAV
689
थके थके बिना रुकेचल रहे राहों पे हम।।१।।मुश्किलें नहीं है कमफिर भी बढ़ रहे है,ये कदम।।२।।न पीछे रह जाने का डरन ही आगे होने का घमंड।।३।।बस एक राह पकड़ उस पर चल दिये है हम।।४।।नदियों सा ये सफर समंदर की ना कोई खबर।।५।।अनजाने रास्तों पर ही सहीपर आगे तुम बढ़ सकते हो।।६।...
YASHVARDHAN SRIVASTAV
689
थके थके बिना रुकेचल रहे राहों पे हम।।१।।मुश्किलें नहीं है कमफिर भी बढ़ रहे है,ये कदम।।२।।न पीछे रह जाने का डरन ही आगे होने का घमंड।।३।।बस एक राह पकड़उस पर चल दिये है हम।।४।।नदियों सा ये सफरसमंदर की ना कोई खबर।।५।।अनजाने रास्तों पर ही सहीपर आगे तुम बढ़ सकते हो।।६।।म...
Krishna Kumar Yadav
58
देश-विदेश में इंटरनेट पर हिंदी के व्यापक प्रचार-प्रसार और ब्लॉगिंग के माध्यम से अपनी रचनाधर्मिता को विस्तृत आयाम देने वाले लखनऊ (मुख्यालय) परिक्षेत्र, उत्तर प्रदेश  के निदेशक डाक सेवाएं कृष्ण कुमार यादव के ब्लॉग  "डाकिया डाक लाया" (http://dakbabu.blogspot...
Krishna Kumar Yadav
133
सृजन एवं अभिव्यक्ति की दृष्टि से हिंदी दुनिया की अग्रणी भाषाओं में से एक है। हिन्दी सिर्फ एक भाषा ही नहीं बल्कि हम सबकी पहचान है, यह हर हिंदुस्तानी का हृदय है। हिन्दी को राष्ट्रभाषा  किसी सत्ता ने  नहीं बनाया, बल्कि भारतीय भाषाओं और बोलियों के बीच संपर्क...
Krishna Kumar Yadav
133
हिंदी को वैश्विक स्तर पर पहचान दिलाने में लखनऊ की संस्था परिकल्पना का अहम स्थान है।  विश्व के 11 देशों में  ‘‘ब्लॉगोत्सव‘‘ और ‘‘अंतर्राष्ट्रीय हिन्दी उत्सव‘‘ का आयोजन कर चुकी यह संस्था हिन्दी भाषा को अंतर्राष्ट्रीय स्वरूप देने की दिशा में बड़ा काम कर रही ह...
usha kiran
393
प्राय: सफर में बहुत विचित्र अनुभव होते हैं ..कुछ खट्टे ,कुछ मीठे..आज से लगभग पन्द्रह साल पहले के एक अनुभव को तो मैं आजन्म नहीं भूल सकती ...असाध्य रोग से पीड़ित हो किसी डॉक्टर को दिखा कर मैं कलकत्ता (कोलकाता) से लौट रही थी हमारी ट्रेन का समय शाम का था जिस होटल में र...
 पोस्ट लेवल : सफरनामा
usha kiran
393
सिंगापुर से दिल्ली की फ्लाइट में सीट नं० ढूँढती अपनी सीट तक पहुँची तो वहाँ एक यँग लड़की पहले से विराजमान थी...हमने कहा `ये हमारी सीट है’...तो लगी बहस करने काफी जद्दोजहद के बाद सीट से उठ कर नं० को झाँक कर देखा ...उसके बराबर की बाकी सीट पर मम्मी जी ,पापा जी और भैया ब...
 पोस्ट लेवल : सफरनामा