ब्लॉगसेतु

सुशील बाकलीवाल
427
       दुनिया भर में यौन शक्तिवर्धक,  बलवर्धक व नपुंसकता दूर करने की दवा के रूप में प्रख्यात सफेद मूसली के सिर्फ इतने ही उपयोग नहीं है, बल्कि इसका उपयोग दमा,  चर्मरोग, पेशाब संबंधी रोग,  पाईल्स तथा डायबिटीज के उपचार में भी कि...
sanjiv verma salil
6
डीआरडीओ ने सफेद दाग (ल्‍युकोडर्मा) के इलाज के लि‍ए आयुर्वेदि‍क उत्‍पाद जारी कि‍यासफेद दाग (Leukoderma / ल्यूकोडर्मा) एक त्‍वचा रोग है। इस रोग से ग्रसि‍त लोगों के बदन पर अलग-अलग स्‍थानों पर अलग-अलग आकार के सफेद दाग आ जाते हैं। वि‍श्‍व में एक से दो प्र...
Ashok kumar
459
Case N0:- 2यह एक पुरुष पेशेंट है जिसकी उम्र 24 साल है। इसके हाथों में सफेद दाग का रोग पिछले 8 साल से है। इसके हाथ की फ़ोटो इलाज(ट्रीटमेंट) से पहले की निम्न है:-अब इनका इलाज इनकी प्रकृति (Teperament) और सही निदान(diagnosis) के बाद Electro homeopathy  की हर्बल मे...
Ashok kumar
459
एक महिला पेशेंट जिसकी उम्र 30 साल है। पिछले 12 साल से सफेद दाग के रोग से पीड़ित थी। उस समय का उसका फ़ोटो निम्न है :-वो अब से 6 माह पहले मेरे पास आई थी तो उसका ट्रीटमेंट उसकी प्रकृति (टेम्परामेंट) चेक करने और डायग्नोसिस करने के बाद शुरू किया गया।उसे पहले 2 महीने में ह...
Bhavna  Pathak
80
गर्मी आई आए आमसब के मन को भाए आमबच्चों सो लेकर बूढ़ों तकके मन को ललचाए आमआमों की है बात निरालीलदी हुई है डाली डालीचौसा लंगड़ा और सफेदाहापुस दशहरी ढ़ेरों नामरस चूसो या काट के खाओमैॆगोशेक बना पी जाओबड़े काम की चीज ये प्यारेसभी फलों का राजा आमकच्चे आम से चटनी बनतीपना...
ऋता शेखर 'मधु'
118
सफेद झूठकम्पनी की ओर से आशु को दो वर्षों के लिए विदेश भेजा गया था| पिता अनिकेत और पुत्र आशु विडियो कॉल से ही बातें करते|इधर कई दिनों से अनिकेत की बात बेटे आशु से नहीं हो पा रही थीं| फोन पर भी एक दो शब्दों में आशु का जवाब देना अनिकेत को सशंकित कर रहा था| आज अनि...
 पोस्ट लेवल : सफेद झूठ - लघुकथा
मधुलिका पटेल
546
मै कौन हूँ और क्या हूँक्या तुम मुझे हो जानतेबस चंद है मेरी ज़रूरतें किताब की दुकान देख रुक जाती हूँ अच्छे और सुंदर सफे लिए बिना रह नहीं पाती हूँसुंदर कलम तलाशती आँखेंसांसारिक रंग ढ़ंग कुछ नहीं आता बस कुछ लिख़ने के लिए एकांत मुझे है भाता सुकून मि...
Neeraj Jaat
74
इस यात्रा-वृत्तान्त को आरम्भ से पढने के लिये यहां क्लिक करें।16 जनवरी 2015बारह बज चुके थे और मैं भुज में था। अभी तक कुछ खाया भी नहीं था। सुबह पच्चीस-तीस रुपये की पूरी-सब्जी खाई थीं एक ठेले पर। ठेला समझकर यह मत सोचना कि मैं गन्दगी में जा घुसा। गन्दगी वाला ठेला होता...
मुकेश कुमार
212
पल पल हर क्षण जर्रे जर्रे मेंतुम सिर्फ तुम !मेरे सपने मेरी हसरतें मेरी शर्तें मेरी जरूरतें मेरी शरारतें मेरी रातें मेरे फलसफे मेरी डायरी मेरे शब्द मेरा दिल मेरी धड़कन मेरी जान मेरी तन-मन-धन !हर जगह तो बसने लगी हो तुमसिर्फ तुम पर इनमेंमैं कहाँ हूँ ?कैसे ढूँढूँ ?कब-क...
Ashok kumar
459
दूब घास(Cynodondactylon) के पंचाग (फल, फूल, जड़, तना, पत्ती) तथाकनेर के पत्तोँ को पीस कर कपड़े मेँ रखकर रस निकालेँऔर सिर के गंजे स्थान पर लगायेँ तो सिर्फ 15 दिनोँ मेँही उस स्थान पर नये बालदिखाई देने शुरू हो जाते हैँ।तथा पूरे सिर मेँ तेल की तरह इस रस का प्रयोग करेँतब...