ब्लॉगसेतु

Kajal Kumar
7
Bhavna  Pathak
79
जी हां, किसान आंदोलन जारी है। राजनीतिक गिद्धों की छीना झपटी जारी है। इधर दूध सब्जी आदि की किल्लत जारी है। तो इन चीजों के मनमाने दाम वसूल कर कालाबाजारियों की लूट जारी है। सरकार की तरफ से वही  घिसे पिटे आश्वासनों के दौर और अंदोलन वापस लेने की अपील जारी है। पुलिस...
Bhavna  Pathak
79
ज्यादा अरसा नहीं हुआ जब पाकिस्तान में सूफी संत के दरगाह पर दिल दहलाने वाला आतंकी हमला हुआ था और अब तमाम सुरक्षा उपायों को धता बताते हुए लंदन में संसद के सामने आतंकी हमला हुआा है। भारत तो कबसे इस दंश को झेल रहा है। आज आतंकी हमलों की जद से कोई भी देश बाहर नहीं चाहे व...
संतोष त्रिवेदी
146
समर्थन प्रसाद बहुत गुस्से में हैं।उन्होंने आख़िरी से पहली वाली धमकी दी है कि असली राष्ट्रवादी को छोड़कर अगर वे नये-नवेले राष्ट्रवादी की शरण में गए तो वे विपक्ष की कुर्सी पकड़ लेंगे।वे सुबह समर्थन देते हैं,दोपहर में वापस लेते हैं और शाम को पुनर्विचार करते हैं।एक बंदे क...
Madabhushi Rangraj  Iyengar
514
प्रासंगिक चुनावी मुद्देप्रत्येक राजनीतिक चुनाव में – चाहे वह किसी भी किस्म का हो, पैसे तो जमकर खर्चे जाते हैं. मैं इसे निवेश कहना नहीं चाहूँगा. खर्चा कोई भी करे. अंततः यह सरकार पर ही तो बोझ है. सरकार को पैसा आता कहाँ से है... आम जनता से ही ना... किसी को इसकी चिंता...
महेन्द्र श्रीवास्तव
267
आज बिना लाग लपेट के एक सवाल  कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से पूछना चाहता हूं। मैंडम सोनिया जी, आप बताइये कि क्या कोई कांग्रेसी आपके दामाद राबर्ट वाड्रा को बेईमान और भ्रष्ट कह कर पार्टी में बना रह सकता है ? मैं जानता हूं कि इसका जवाब आप भले ना दें, लेकिन सच्चा...
विजय राजबली माथुर
126
https://www.facebook.com/atul.anjaan.9/posts/3793208564589 एक प्रसिद्ध वामपंथी नेता (मैं नाम नहीं लूंगा) ने कहा था कि ‘जब दूसरे दल गलती करते हैं तो जनता उस दल को सजा देती है लेकिन जब कांग्रेस गलती करती है, तब देश सजा पाता है।’ यह कहते हुए ही वे वरिष्ठ नेता 2000...
विजय राजबली माथुर
126
लेफ्ट को अपनी ताक़त बढ़ाने के लिए ज़्यादा सीटें जीतनी होंगी । इसके लिए ज़्यादा से ज़्यादा सीटो पर कॉंटेस्ट करना होगा। जिन प्रांतों  मे सम्मानजनक अड्जस्टमेंट नही होता वहाँ  सभी सीटो पर विकल्प के रूप मे खुद आना होगा । ज़ाहिर सी बात है इसमे उ .प्र.पर दायित्व...
विजय राजबली माथुर
96
हिंदुस्तान,लखनऊ  -31 जुलाई -पेज 16 शुक्रवार, 19 अक्तूबर 2012ममता बनर्जी के प्रधानमंत्री बनने की संभावनाएं ? http://krantiswar.blogspot.in/2012/10/blog-post_19.htmlपुराने अखबारों का अवलोकन करते समय सुश्री ममता बनर्जी की यह जन्मपत्री दिखाई दे गई जिसमे सन 2002 तक...