ब्लॉगसेतु

संजीव तिवारी
287
जगतजननी माँ जगदम्बा की नवराती में भब्य पंडाल सजे हैं। बड़े होटलों, फाइव स्टार धर्मशालाओं और इंद्र की नगरी की भांति सर्व सुविधासंपन्न आश्रमों में रास गरबा करते खाए अघाए लोग नाच रहे हैं। गीतगोविन्दम के कृष्ण, राधा और गोपियाँ आस्था और भक्ति का संदेस देते जीवंत हो गए ह...
 पोस्ट लेवल : समसामयिक लेख Tamancha Raipuri
संजीव तिवारी
287
विनोद साव जी नें अपने फेसबुक वाल में लिखा —गोष्ठी, लोकार्पण और पुरस्कार अब वस्तुतः हिंदी साहित्य में छठ, तीज और गया में पिंड-तर्पण जैसे त्यौहार होकर रह गए हैं. पुरस्कार इतने दिए जा रहे हैं कि लगता है आज हिंदी साहित्य में प्रतिभाओं का आकस्मिक विस्फोट हो गया है.हमने...
संजीव तिवारी
287
पारंपरिक संचार के जो साधन है उससे हट कर गैर पारंपरिक संचार का जो साधन वर्तमान समाज में सहज सरल रूप से उपलब्ध है वही सोशल मीडिया है. जिसे हम ब्लॉग, फेसबुक, ट्विटर, व्हाट्स अप आदि के नाम से पहचानते हैं. मीडिया के इसी माध्यम को हम सामान्यतया नागरिक मीडिया सिटिजन जर्नल...
संजीव तिवारी
287
दलित साहित्य और दलित विमर्श का विषय हमारे जैसे अल्पज्ञों के समझ से अभी दूर है। फिर भी थोडा बहुत जो अध्ययन है उसके अनुसार से यह प्रतीत होता है कि इस विषय को वामपंथ ने 'हैक' कर रखा है। इस विषय पर दक्षिणपंथ का या तो ज्यादा योगदान नहीं है या फिर उनके लेखन को जानबूझ कर...
संजीव तिवारी
287
साथियों यह खुशी की बात है कि देखते ही देखते छत्‍तीसढ़ी भाषा के प्रेमी फेसबुक व ट्विटर एवं अन्‍य सोशल नेटवर्किंग माध्‍यमों में सक्रिय हो रहे हैं। आपकी उपस्थिति से इंटरनेट में छत्‍तीसगढ़ी भाषा का प्रचार प्रसार बढ़ा है एवं अपनी मातृभाषा के प्रति लोगों की रूचि बढ़ी है।...
संजीव तिवारी
287
हमारे पिछले फेसबुक स्टेट्स ‘पवित्र उंगलिंयॉं‘ में  कमेंटियाते हुए प्रो.अली सैयद नें हमारी पर्यवेक्षणीयता की सराहना की थी. हम भी सोंचें कि ऐसा कैसे हुआ, व्यावसायिक कार्य हेतु दिल्ली, ट्रेन से आना जाना तो लगा रहता है पर ऐसी पर्यवेक्षणीयता हर बार नहीं होती. बा...
संजीव तिवारी
287
कैबिनेट मंत्री प्रेम प्रकाश पांडेय ने मंगलवार को कहा कि बहुमत सम्मान जैसे आयोजनों से सही मायनों में लोक कला व संस्कृति का संरक्षण हो रहा है। श्री पांडेय भिलाई निवास में आयोजित रामचंद्र देशमुख बहुमत सम्मान समारोह में मुख्य अतिथि की आसंदी से बोल रहे थे। लगातार 15 वे...
संजीव तिवारी
287
पिछले दिनों कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष भूपेश बघेल के द्वारा मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह के लिए की गई टिप्पणी 'परोसी के भरोसा लईका पैदा करे' पर बहुत शोर शराबा हुआ एवं मीडिया नें भी इसे बतौर समाचाार लगातार छापा. इस बीच कुछ पत्रकार मित्रों के फोन भी आए कि इस कहावत पर जानका...
 पोस्ट लेवल : समसामयिक लेख Tamancha Raipuri
संजीव तिवारी
287
पिछले पंद्रह दिनों से मीडिया में चिल्‍ल पों चालू आहे, ओंकार .... नत्‍था ....... पीपली लाईव ....... आमीर खान ....... अनुष्‍का रिजवी। यहां छत्‍तीसगढ़ भी इस मीडिया संक्रामित वायरल के प्रकोप में है। रोज समाचार पत्रों में ओंकार से जुडे समाचार कहीं ना कहीं किसी ना किसी र...
संजीव तिवारी
287
विश्व रंगमंच दिवस पर नेहरू सांस्कृतिक सदन सेक्टर-१ में शनिवार को तीन नाटकों का मंचन किया गया। भिलाई के रंग कर्मियों और क्रीड़ा एवं सांस्कृतिक समूह बीएसपी के सहयोग से आयोजित इस कार्यक्रम में नाटकों का मंचन कर रंगकर्मियों ने दर्शकों को संदेश दिया। इस मौके पर इप्टा द्व...