ब्लॉगसेतु

Bharat Tiwari
25
दुःख या सुख कई जगहों से आता रहता है और जाता भी रहता है - शर्मिला बोहरा जालानसमीक्षा: जयशंकर की प्रतिनिधि कहानियांदुःख या सुख कई जगहों से आता रहता है और जाता भी रहता है। यह सब कुछ बहुस्तरीय चेतना से होता है जिन्हें मैं इन कहानियों में हर बार नए ढंग से पढ़ और समझ पाती...
Bharat Tiwari
25
Chhapaak Review: छपाक से देखो  छपाक हर उस युवती की फिल्म है जिसने कुछ कर दिखाने का सपना देखा हैChhapaak Review: दीपिका और मेघना की जुगलबंदी ने किया कमाल, तपाक से देख आइए छपाकसाभार अमर उजाला छपाक का रिव्यु कलाकार: दीपिका पादुकोण, विक्रांत मैसी, म...
6
उदात्त भावनाओं की अभिव्यक्तियाँ“अरी कलम! तू कुछ तो लिख”       रश्मि अग्रवाल का नाम साहित्यजगत में अनजाना नहीं है। हाल ही में इनका कविता संग्रह “अरी कलम! तू कुछ तो लिख” प्रकाशित हुआ है। आप न केवल एक कवियित्री हैं अपितु एक सफल ग...
रविशंकर श्रीवास्तव
4
..............................
 पोस्ट लेवल : समीक्षा
रविशंकर श्रीवास्तव
4
..............................
 पोस्ट लेवल : समीक्षा
उन्मुक्त हिन्दी
103
यह चिट्ठी, रॉबर्ट ओपेनहाइमर, उनके बारे में एक दिलचस्प लेख, उनका गीता प्रेम  और रॉबर्ट जुंगक की लिखी पुस्तक 'Brighter than Thousand Suns' के बारे में है।आइंस्टाइन और रॉबर्ट ओपेनहाइमर रॉबर्ट ओपेनहाइमर को परमाणु बम के पिता के रूप में जाना जाता है। यहां पर, उन पर,...
रविशंकर श्रीवास्तव
4
..............................
 पोस्ट लेवल : समीक्षा
रविशंकर श्रीवास्तव
4
..............................
 पोस्ट लेवल : समीक्षा
रविशंकर श्रीवास्तव
4
..............................
 पोस्ट लेवल : समीक्षा
रविशंकर श्रीवास्तव
4
..............................
 पोस्ट लेवल : समीक्षा