ब्लॉगसेतु

रविशंकर श्रीवास्तव
4
..............................
 पोस्ट लेवल : समीक्षा
उन्मुक्त हिन्दी
105
जीनो सेग्रे (Gino Segrè) और  बेटीना होर्लिन (Bettina Hoerlin) पति-पत्नी  हैं। उन्होंने  'द पोप ऑफ फिजिक्स: एनरिको फर्मी एंड द बर्थ ऑफ एटॉमिक एज' (The Pope of Physics: Enrico Fermi and the Birth of the Atomic Age) लिखी है। यह वैज्ञानिक एनरिको फर्मी की...
 पोस्ट लेवल : पुस्तक समीक्षा
sanjiv verma salil
5
पुस्तक सलिला: 'अंधी पीसे कुत्ते खाएँ' खोट दिखाती हैं क्षणिकाएँसमीक्षक: आचार्य संजीव वर्मा 'सलिल' *(पुस्तक विवरण: 'अंधी पीसे कुत्ते खाएँ' क्षणिका संग्रह, अविनाश ब्यौहार, प्रथम संस्करण २०१७, आकार डिमाई, आवरण पेपरबैक बहुरंगी, पृष्ठ १३७, मूल्य १००/-, प्र...
संजीव तिवारी
443
किताब पढ़ने के मामले में मन में पूर्वग्रह नहीं पालना चाहिए। मैंने बरसों नेहरु पर लिखी एम जे अकबर की किताब इसलिए नहीं पढ़ी क्योंकि मैं उनको कांग्रेस का नेता समझता रहा। बाद में पढ़ी तो समझ में आया कि कितनी अच्छी किताब थी। यही हाल दिनकर जी की किताब 'लोकदेव नेहरु' के स...
रविशंकर श्रीवास्तव
4
..............................
 पोस्ट लेवल : समीक्षा
रविशंकर श्रीवास्तव
4
..............................
 पोस्ट लेवल : समीक्षा
रविशंकर श्रीवास्तव
4
..............................
 पोस्ट लेवल : समीक्षा
रविशंकर श्रीवास्तव
4
..............................
 पोस्ट लेवल : समीक्षा
रविशंकर श्रीवास्तव
4
..............................
 पोस्ट लेवल : समीक्षा
Sumit Pratap Singh
304
      पुलिस का नाम लेते ही आमतौर पर लोगों के मन में किसी भ्रष्ट, कामचोर या क्रूर व्यक्ति की छवि उभरती है; कोई ऐसा व्यक्ति, जिससे गुंडे-बदमाश तो साँठगाँठ कर लेते हैं और आम आदमी घबराता है।लेकिन सब उंगलियां बराबर नहीं होतीं। अपवाद हर जगह होते हैं औ...