ब्लॉगसेतु

केवल राम
314
गत अंक से आगे.....मनुष्य जीवन की प्रारम्भिक अवस्था में अपने परिवेश से शब्दों के उच्चारण सीखता है. अधिकतर यह देखा गया है कि बच्चा सबसे पहले ‘माँ’ शब्द का ही उच्चारण करता है. फिर धीरे-धीरे वह अपनी जरुरत और सुविधा के हिसाब से शब्दों को सीखता है और उनका प्रयोग करता है....
मुकेश कुमार
209
प्यार कुछ सायकल सा होता है नजिसके पैडल तो ऊपर नीचे करने होते हैंजबकि चक्का गोल होता हैपर बढ़ता है सीधे आगे की ओर  !!खड़खडाता हुआ, कभी कभी डगमगाता हुआ भी !!प्यार उस कुकर सा भी होता है,जो भीतर ही भीतर उबलते उबालतेस्नेह की खिचडी को पकाता हैऔर फिर मारता है सीटीचीखता...
girish billore
265
बच्चों के सम्पूर्ण विकास की कल्पना उसके व्यक्तित्व के विकास के बिना संभव कदापि नहीं बच्चों को आत्मसाहस का बीजारोपण करने वाले हज़ारों उदाहरण आज भी दुनिया में प्रेरक प्रसंगों में मौजूद हैं जो बच्चों में आत्मसाहस एवं विश्वास का बीजारोपण करने में सहायक साबित होंगे . तदा...