ब्लॉगसेतु

Bhavna  Pathak
78
शहरों का विस्तार आश्चर्यजनक तेजी से हो रहा है। लगता है जैसे होड़ लगी है शहरों की ओर भागने की। जैसे सारे के सारे गांव शहरों में ही समा जाएंगे। गावों से पलायन रोकने के लिए मनरेगा  जैसी योजना बड़े जोरों शोरों से शुरु तो की गई पर हालत वही ढाक के तीन पात वाली है। इ...
Kheteswar Boravat
48
..............................
Kheteswar Boravat
48
..............................
Kheteswar Boravat
48
..............................
Kheteswar Boravat
48
..............................
Kheteswar Boravat
48
..............................
Kheteswar Boravat
48
..............................
Kheteswar Boravat
48
..............................
Kheteswar Boravat
48
..............................
Kheteswar Boravat
48
..............................