ब्लॉगसेतु

Saransh Sagar
230
मूलांक 6 का विश्लेषण जिन व्यक्तियों का जन्म किसी भी माह की 6, 15 या 24 तारीख को होता है, उनका मूलांक ‘6’ बनता है। मूलांक 6 का स्वामी ग्रह शुक्र है, जो कला, सौंदर्य और द्रव्य का कारक है। यदि ये तारीखें 20 अप्रैल से 27 मई तक और 20 सितंबर से 27 अक्टूबर के बीच हों...
Saransh Sagar
230
 मूलांक 7 का विश्लेषण : ज्योतिष ज्ञानसागर मूलांक सात का स्वामी ग्रह केतु है और इस कारण मूलांक 7 के जातक केतु ग्रह से प्रभावित रहते हैं. किसी भी माह की 7, 16, 25 तारीख को जन्मे व्यक्तियों का मूलांक 7 होता है. पाश्चात्य विद्वान मूलांक 7 का स्वामी नेपच्यून ग...
Saransh Sagar
230
मूलांक 8 का विश्लेषण : ज्योतिष ज्ञानसागरमूलांक 8 का स्वामी ग्रह शनि को माना जाता है इस कारण मूलांक आठ के जातकों पर शनि का प्रभाव देखा जा सकता है ।पाश्चात्य मूलांक ज्योतिषियों के मतानुसार भी मूलांक आठ के व्यक्ति शनि के प्रभाव से युक्त होते हैं. 8, 17, 26 तारीखों में...
Saransh Sagar
230
मूलांक: ९ (९, १८, २७) मुख्य ग्रह: मंगलकिसी भी महीने की ९, १८, २७ तिथियों को जन्म लेने वाले लोग मूलांक ९ के अंतर्गत आते है और आपका स्वामी ग्रह मंगल होता है. मंगल से शासित होने के कारण विचारशीलता आपका मुख्य लक्षण होता है. इस अंक के लोगो में मंगल की विशेषताए&nbsp...
Saransh Sagar
230
● विश्वास कीजिये अगर आप अयोग्य होने के कारण नकार दिए गए हो तो वही कारण आपको योग्यता की श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ बना देगा ! ● विश्वास कीजिये अगर आप अपने किसी भूल के कारण अपने आस-पास के लोगो और खुद को तकलीफ में डाल चुके हो तो वही भूल आपको उस भूल को दोबारा न करने क...
Saransh Sagar
230
बीते कुछ महीनों से it फील्ड में अपने रूचि को बढ़ाया और शिफ्ट किया है जिसके बाद कुछ धरातल पर कार्य करने वाले लोगो का अनुभव जानने का मौका मिला !! वो आपसे साझा करना जरूरी है क्योंकि मेरा कर्तव्य है कि समाज में जो हो रहा है उसके बारे में आपसे चर्चा करूं और उसका जिक्र कर...
Saransh Sagar
230
भागमभाग भरे जीवन मे , खुद और सबके जीवन पर जब नजर गयी तो पाया कि मनुष्य का जीवन कई हद तक नदियों जैसा है और सागर वो लक्ष्य है जो परम् सत्य और अंनत है। नदियों में भी हम अपने जीवन को नदी के बूंद से तुलना कर सकते है क्योंकि विशाल जल स्रोत नदी शायद ही कोई मनुष्य बन पाया...
Saransh Sagar
230
ट्रेन दोपहर ३ बजे की थी और कड़की सर्दी का मौसम था !! कोहरा होने के कारण ट्रेन रात 9 PM बजे की हो गयी पर ट्रेन पकड़ने से पहले एक बार नेट पर चेक करना सबने उचित समझा तो भाई ने 7 PM बजे नेट पर चैक करके बताया कि गाड़ी अब रात 11 PM बजे की है !! मै शादी में नही जा रहा था लेक...
Saransh Sagar
230
भावनाओं को व्यक्त करने का काफी मन हैपर ये कमबख्त सर्दी भी क्या कम है ???रोज सोचता हूँ लिखने का ऐसा होता मेरा मन हैपर क्या करूँ काम भी कहाँ होता खत्म है ???अहसासों और अनुभवो को सारांश में बताने का काफी मन हैपर कभी कभी पढ़ने वाले ऑनलाइन जन भी हो जाते कम है !!ठंड से बु...
Saransh Sagar
230
 मैं हैरान हूं और परेशान हूँ। बेटी नही है, न सगी बहन पर जब किसी के दुःख को प्रत्यक्ष देखने और सुनने का अवसर मिले तो पीड़ा एक समान ही महसूस होती है जैसे किसी अपने पर ही बीती हो !! न जाने क्यों अंधी दौड़ और सांसारिक भेड़-चाल में चल रहे प्रचलन को आज तथा-कथित बेटी के...