ब्लॉगसेतु

रविशंकर श्रीवास्तव
5
..............................
रविशंकर श्रीवास्तव
5
..............................
रविशंकर श्रीवास्तव
5
..............................
रविशंकर श्रीवास्तव
5
..............................
रविशंकर श्रीवास्तव
5
..............................
रविशंकर श्रीवास्तव
5
  - दिनेश कुमार माली यद्यपि साहित्य सर्जन एक अनवरत अंतर्मुखी सारस्वत प्रक्रिया है,मगर उन अंतर्मुखी साहित्यिक गतिविधियों को बहिर्मुखी करने अर्थात उनके प्रचार,प्रसार और उन्नयन की उतनी ही आवश्यकता होती है,जितनी साहित्य-सर्जन की । यह संस्थागत काम इतना सरल व सहज न...
रविशंकर श्रीवास्तव
5
विश्वविद्यालय अनुदान आयोग द्वारा आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी खालसा कॉलेज फार विमन, अमृतसर में विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के सौजन्य से '2 1 वीं शती के प्रवेश द्वार का हिन्दी साहित्य' विषय पर द्वि-दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन मार्च 20 - 21 को किया गया । जिसमें 4०...
रविशंकर श्रीवास्तव
5
..............................
रविशंकर श्रीवास्तव
5
..............................
रविशंकर श्रीवास्तव
5
..............................