सुबह से लेकर शाम तक# # # # # # #जब मै सुबह जगा ,न जाने कैसा लगा ,न नहाया न धोया ,कॉलेज में खूब सोया ,जब कॉलेज से निकला ,एक लड़की देख पैर मेरा फिसला ,कुछ दोस्तों के साथ सत्या पर पिया चाय ,फिर दोस्तों को बोला बाय ,मै करने लगा बस का इन्तजार ,उस लड़की से कैसे करता इजहार...
 पोस्ट लेवल : सुबह से लेकर शाम तक