ब्लॉगसेतु

Bhavna  Pathak
78
मीडिया पर लेखन और चर्चा परिचर्चा के दौरान ही मुझे मीडिया लिटरेसी के बारे में पता चला। मीडिया में काम करने और मास मीडिया के अध्यापन से जुड़े होने के नाते मीडिया लिटरेसी के बारे में ज़्यादा से ज़्यादा जानने की ललक के चलते गूगल को छान मारा और उसी दौरान मुझे एरि...
अनंत विजय
56
हिंदी में आलोचना की स्थिति को लेकर बहुधा सवाल खड़े होते रहे हैं। रचनाकारों से लेकर छोटे-मोटे आलोचना पुरस्कार से नवाजे गए चंद प्राध्यापकनुमा आलोचक भी इस विधा को कठघरे में खड़ा करते रहे हैं। इन छोटे मोटे आलोचकों को फेसबुक ने एक ऐसा मंच दे दिया जहां वो तीन चार लाइन की...