ब्लॉगसेतु

यूसुफ  किरमानी
181
बड़ी कंपनियों के विज्ञापन बहिष्कार के फैसले ने फेसबुक के मालिक मार्क जुकरबर्ग (#MarkZukerberg) को घुटनों पर खड़ा कर दिया है। सोमवार को अपने वीडियो संदेश में जुकरबर्ग ने कहा कि अब से फेसबुक उन राजनीतिक दलों के नेताओं के पोस्ट या कंटेंट पर फ्लैग लगाकर चेतावनी देगा, ज...
 पोस्ट लेवल : सोशल मीडिया राजनीति
S.M. MAsoom
38
न्यूज़ पोर्टल का आया स्वर्णिम दौर लेकिन ख़बरों की प्रमाणिकता आवश्यक | | सोशल मीडिया की अहमियत से आज के दौर में इंकार नहीं किया जा सकता क्यों की आज यह सबसे  तेज़ लोगों तक अपनी बातें खबरें इत्यादि पहुँचाने का जरिया बन चूका है | आज से दस वर्ष पहले मैंने इस...
 पोस्ट लेवल : सोशल मीडिया
kumarendra singh sengar
24
कई बार लगता है कि सोशल मीडिया की ऐसी स्वतंत्रता अब बंद की जानी चाहिए. एडिट फ्री व्यवस्था ने जहाँ अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता दी है वहीं विचारों की गंदगी भी फैला रखी है. किसी समय अपने आलेख, साहित्यिक रचनाओं के सम्पादक के धन्यवाद पत्र के साथ वापस आने पर बुरी तरह गुस्सा...
kumarendra singh sengar
24
व्यक्ति कितनी जल्दबाजी में रहता है इसको सोशल मीडिया पर देखा जा सकता है. एक-दो पंक्तियों की पोस्ट को तो व्यक्ति पढ़ लेता है मगर कुछ लम्बी पोस्ट दिखाई देने की स्थिति में लोग बस लाइक का बटन खटका कर आगे बढ़ जाते हैं. कुछ तो पोस्ट पर बस लाइक का खटका दबाने ही आते हैं. एक म...
दिनेशराय द्विवेदी
57
एनडीटीवी इंडिया के डिजिटल एडिटर विवेक रस्तोगी का एक साक्षात्कार समाचार मीडिया डॉट कॉम ने प्रकाशित किया हैइस में उन्होंने फेक न्यूज' के बारे में पूछे गए प्रश्न कि, "फेक न्यूज का मुद्दा इन दिनों काफी गरमा रहा है। खासकर विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर फेक न्यूज की...
ज्योति  देहलीवाल
59
फिलहाल कोरोना वायरस की महामारी के कारण लाखों लोग बेघर हो गए हैं। लाखों लोग टेंटो में शरण लिए हुए हैं। लाखों लोग दो वक्त की रोटी नहीं जुटा पा रहे हैं। लेकिन ध्यान देने की बात यह हैं कि ये लाखों लोग अपने आलस के कारण या कर्महीनता के कारण भुखे पेट नहीं सो रहे हैं। ये उ...
kumarendra singh sengar
24
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोशल मीडिया पर काफी लोकप्रिय हैं. सोशल मीडिया पर विभिन्न मंचों पर उनके फॉलोअर की संख्या बहुत अधिक है. ट्विटर पर भी उनके 53.3 मिलियन फॉलोअर हैं. वे खुद तो सोशल मीडिया पर लगातार सक्रिय रहते ही हैं, लोगों को भी इन मंचों का लाभ उठाने की, इनसे...
kumarendra singh sengar
24
पिछले दिनों दिल्ली में हुई हिंसा ने दिल्ली को बेबस कर दिया. उसकी इस बेबसी में स्वतंत्र सोशल मीडिया अपनी तरह से चाल चलता दिखा. दिल्ली हिंसा के बेबसी भरे दौर में बहुतेरे लोग सोशल मीडिया की सम्पादक-मुक्त स्वतंत्रता का दुरुपयोग करते भी दिखाई दिए. यह सही है कि सोशल मीडि...
संतोष त्रिवेदी
151
साधक जी गहरे सदमे में थे।उनके प्रिय लेखक का निधन हो गया था और यह ख़बर उन्हें पूरे बत्तीस मिनट की देरी से मिली थी।अब तक तो सोशल मीडिया में कई लोग बाज़ी मार ले गए होंगे।यह उनकी अपूरणीय क्षति थी।फिर भी उन्होंने ख़ुद को संभाला।ऐसा करना ज़रूरी था नहीं तो क्षति और व्यापक...
यूसुफ  किरमानी
181
यह मौक़ा है सच, झूठ, मक्कारी को पहचानने का...अगर आप आस्तिक हैं और आपके अपने अपने भगवान या अल्लाह या गुरू हैं तो आपको इसे समझने में मुश्किल नहीं होनी चाहिए...अगर आप नास्तिक या जस के तस वादी हैं तो इतनी अक़्ल होगी ही कि सही और ग़लत में किसका पलड़ा भारी है...शाहीन बाग...