ब्लॉगसेतु

सुशील बाकलीवाल
436
       दुनिया भर में यौन शक्तिवर्धक,  बलवर्धक व नपुंसकता दूर करने की दवा के रूप में प्रख्यात सफेद मूसली के सिर्फ इतने ही उपयोग नहीं है, बल्कि इसका उपयोग दमा,  चर्मरोग, पेशाब संबंधी रोग,  पाईल्स तथा डायबिटीज के उपचार में भी कि...
सुशील बाकलीवाल
436
                         पिछली पोस्ट में हमने नींबू के रस के विभिन्न स्वाद, स्वास्थ्य व सौंदर्य से सम्बन्धित उपयोगिता की चर्चा के साथ ही इसके छिलकों की उपयोगिता के बारे में अगली पोस्ट में चर्चा करने क...
सुशील बाकलीवाल
436
      हम सभी के जीवन में नींबू ( Lemon ) एक ऐसे माध्यम के रुप में पूरे वर्ष भर हमारे साथ रहता है जिसके बगैर बाजार में बिक रहे अनेकों सौंदर्य प्रसाधनों के साथ ही हमारे भोजन की थाली भी परिपूर्ण ही नहीं रह पाती है । पोहे जैसा सुबह का नाश्ता ह...
सुशील बाकलीवाल
436
                 हमारे घरों की रसोई में लगभग हमेशा उपलब्ध रहने वाला खाने का सोडा जिसे बोलचाल की भाषा में हम मीठा सोडा और बेकिंग सोडा के रुप में भी जानते हैं, इसके रसोई के वास्तविक उपयोग तो शायद गृहिणियाँ ही बे...
सुशील बाकलीवाल
436
अगर आपके बाल बहुत ज्यादा झड़ते या टूटते हैं, तो अदरक का रस आपकी इस समस्या  को एक सप्ताह से भी कम में रोक सकता है । अदरक में अनेकों मिनरल्स, फैटी एसिड्स और विटामिन्स होते हैं, जो बालों को पोषण देते हैं । इसके अलावा एंटीबैक्टीरियल अदरक स्कैल्प के बैक्टीरिया को...
सुशील बाकलीवाल
436
             हम सभी जानते हैं कि हमारे स्वास्थ्य का एक महत्वपूर्ण स्तम्भ न सिर्फ शारीरिक बल्कि वातावरण की स्वच्छता पर भी निर्भर होता है और जब इस स्वच्छता की कमी हमारे घर की रसोई में लगातार बनी रहे तो घर-पर...
Asha News
89
झाबुआ। झाबुआ में विशेष स्वास्थ्य शिविर का आयोजन प्रातः 09 बजे से दोपहर 03 बजे तक किया गया। जिसके अंतर्गत शिविर में आये वृद्व मरीजो का निःशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण, उपचार एवं दवा उपलब्ध कराई गई। शिविर में आये वृद्व मरीजो को चिकित्सक के माध्यम से चिन्हित कर म...
सुशील बाकलीवाल
436
                               एक 36 वर्षीय भाई को कैंसर हुआ, जो लास्ट स्टेज पर था । उन्होंने अपनी अब तक की उम्र में ना...
सुशील बाकलीवाल
436
 हीमोग्लोबिन A1C / HbA1C परीक्षण          हीमोग्लोबिन  A1C  अथवा  HbA1C  जांच ब्लड-ग्लुकोज का पता लगाने के लिए की जाती है ।  इससे पता चल जाता है कि पिछले 2 से 3 महिनों के दौरान आपका औसत ब्लड...
अजय  कुमार झा
398
भारतीय समाज प्राचीन काल से ही खुद को स्वस्थ या कहें कि चुस्त दुरुस्त रखने के लिए कभी भी विशेष प्रयत्नशील नहीं रहा है | इसका एक वाज़िब कारण यह भी था की लोगों की शारीरिक श्रम वाली दिनचर्या व चर्बी रहित  सादा मगर पौष्टिक भोजन करने की परम्परा उन्हें आतंरिक रूप से इ...