ब्लॉगसेतु

kumarendra singh sengar
28
आधुनिकता का पर्याप्त प्रभाव होने के बाद भी बुन्देलखण्ड क्षेत्र में पावन पर्व कजली उत्साह और श्रद्धा के साथ मनाया जाता है. यहाँ की लोक-परम्परा में शौर्य-त्याग-समर्पण-वीरता के प्रतीक मने जाने वाले कजली का विशेष महत्त्व है. इस क्षेत्र के परम वीर भाइयों, आल्हा-ऊदल के श...
शिवम् मिश्रा
3
सायद एही साल का बात है या लास्ट ईयर का. समय पुस्तक मेला का था, इसलिये साल चाहे जो भी हो, हम तब तक दिल्ली से निकाले नहीं गये थे. पुस्तक मेला का तमाम गहमा-गहमी के बीच मेला घूमना अऊर बहुत सा किताब खरीदना त होबे किया, एगो अलग अनुभब ई हुआ कि ब्लॉग के पुराना समय के दोस्त...
Rajeev Upadhyay
368
ज़िन्दगी से बड़ी सज़ा ही नहीं, और क्या जुर्म है पता ही नहीं।इतने हिस्सों में बट गया हूँ मैं, मेरे हिस्से में कुछ बचा ही नहीं| ज़िन्दगी! मौत तेरी मंज़िल है दूसरा कोई रास्ता ही नहीं।सच घटे या बड़े तो सच न रहे, झूठ की कोई इन्तहा ही नहीं।ज़िन्द...
sanjiv verma salil
5
पीजा मान्साहार है...मोजरेला चीज़ Mozzarella व अन्य प्रकार के पनीर जिनसे पिज़्ज़ा या पीज़ा या अन्य विदेशी व्यंजन बनते हैं, शाकाहारी नहीं हैं।पश्चिमी फैशन के मारे हुए हमारे भारतीय भाई बड़े शौक से पीज़ा खाते हैं क्योंकि पीज़ा पर शाकाहार की हरी मुहर लगी होती है।लेकिन बे...
 पोस्ट लेवल : पीजा mansahar pizza मान्साहार
sanjiv verma salil
5
गीत:हारे हैं...संजीव 'सलिल'*कौन किसे कैसे समझाएसब निज मन से हारे हैं?.....*इच्छाओं की कठपुतली हमबेबस नाच दिखाते हैं.उस पर भी तुर्रा यह खुद कोतीसमारखाँ पाते हैं.रास न आये सच कबीर काहम बुदबुद गुब्बारे हैं...*बिजली के जिन तारों सेटकरा पंछी मर जाते हैं.हम नादां उनसे बि...
 पोस्ट लेवल : geet गीत हारे हैं
sanjiv verma salil
5
पुस्तक सलिला: 'अंधी पीसे कुत्ते खाएँ' खोट दिखाती हैं क्षणिकाएँसमीक्षक: आचार्य संजीव वर्मा 'सलिल' *(पुस्तक विवरण: 'अंधी पीसे कुत्ते खाएँ' क्षणिका संग्रह, अविनाश ब्यौहार, प्रथम संस्करण २०१७, आकार डिमाई, आवरण पेपरबैक बहुरंगी, पृष्ठ १३७, मूल्य १००/-, प्र...
शिवम् मिश्रा
3
जब आदमी साइंस पढ़ता है त अपने आप को एतना बुद्धिमान समझने लगता है कि उसको बुझाता है जइसे दुनिया का सब सवाल का जवाब उसके पास है. लेकिन ऊ भुला जाता है कि पेड़ के ऊपर चढ़ा हुआ आदमी को दूर से आता हुआ रेलगाड़ी देखाई देता है, मगर पेड़ के नीचे खड़ा आदमी नहीं देख पाता है. इस...
समीर लाल
314
Ingredients:पोहा – Flattened Rice (Beaten Rice) – 1 ½ Cupदही - Yogurt  –1 1/2  Cupदूध - Milk – ½ Cupनमक - Salt – 1/2  Tea Spoonशक्कर – Sugar – 1/4 tea Spoonतेल – Oil – ½ Tea Spoonहींग - Asafetida – 1 Pinchराई – Mustard Seeds – 1 /2 Tea Spoonचना दाल –...
शिवम् मिश्रा
13
रानी लक्ष्मीबाई (जन्म- 19 नवंबर, 1835; मृत्यु- 18 जून, 1858) मराठा शासित झाँसी राज्य की रानी और 1857 के प्रथम भारतीय स्वतंत्रता संग्राम की वीरांगना थीं। बलिदानों की धरती भारत में ऐसे-ऐसे वीरों ने जन्म लिया है, जिन्होंने अपने रक्त से देश प्रेम की अमिट गाथाएं...
शिवम् मिश्रा
3
नमस्कार साथियो, आज, 18 जून को रानी लक्ष्मी बाई की पुण्यतिथि है. उनका जन्म वाराणसी में 19 नवम्बर 1828 को हुआ था. उनका बचपन का नाम मणिकर्णिका था लेकिन प्यार से उन्हें मनु पुकारा जाता था. झाँसी के राजा गंगाधर राव से उनका विवाह हुआ. सन 1851 में उनको पुत्र रत्न की प्राप...