ब्लॉगसेतु

Kajal Kumar
0
 
 पोस्ट लेवल : Hindi दिवस हिंदी
Lokendra Singh
0
वर्ष 2015 में मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में आयोजित 10वां हिन्दी सम्मलेन वैश्वीकरण के इस दौर में हिन्दी का विस्तार और प्रभाव पूरे विश्व में देखने को मिल रहा है। हिन्दी भारत की सीमाओं से बाहर कई देशों में अपनी पहचान बना चुकी है। भारत में भी वह सम्पर्क की प्रम...
rishabh shukla
0
Hindi Hain Hum / हिंदी है हम  / We Are Hindi - Hindi Diwas / हिंदी दिवसHindi Hain Hum / हिंदी है हम  / We Are Hindi - Hindi Diwas / हिंदी दिवसइस हिंदुस्तान कि मिट्टी में,हमने जन्म लिया है|इस रिश्ते के नाते,बेशक हिंदी है हम||बेशक हिंदी है हम...भल...
Kajal Kumar
0
अंग्रेजी में छपी हुई सामग्री सामग्री को डिजिटल फॉर्मेट में बदलने के लिए तो कई ओसीआर सॉफ्टवेयर हैं किंतु, हिंदी के लिए जो ओसीआर सॉफ्टवेयर उपलब्ध हैं वे या तो उतने अच्छे नहीं हैं या, उन्हें आप खरीद कर ही काम में ला सकते हैं. हिंदी के लिए अब एक ओपन सोर्स सॉफ्टवेय...
 पोस्ट लेवल : neocr OCR ओसीर हिंदी
सतीश सक्सेना
0
लोगों में इन कविताओं की,आदत नहीं रही सुन भी लें तो भी,मन से, इबादत नहीं रही !इक वक्त था जब कवि थे देश में गिने चुने भांडों  और  चारणों से , मुहब्बत नहीं रही !जब से बना है काव्य चाटुकार , राज्य का जनता को भी सत्कार की आदत नहीं रही माँ से मिल...
sanjiv verma salil
0
 आलेख:तकनीकी गतिविधियाँ राष्ट्रीय भाषा मेंसंजीव वर्मा 'सलिल'*राष्ट्र गौरव की प्रतीक राष्ट्र भाषा: किसी राष्ट्र की संप्रभुता के प्रतीक संविधान, ध्वज, राष्ट्रगान, राज भाषा, तथा राष्ट्रीय प्रतीक चिन्ह (पशु, पक्षी आदि) होते हैं. संविधान के अनुसार भारत...
 पोस्ट लेवल : हिंदी - तकनीकी लेखन
sanjiv verma salil
0
 हिंदी दिवस पर विशेष गीत:सारा का सारा हिंदी हैआचार्य संजीव 'सलिल'*जो कुछ भी इस देश में है, सारा का सारा हिंदी है.हर हिंदी भारत माँ के माथे की उज्जवल बिंदी है....मणिपुरी, कथकली, भरतनाट्यम, कुचपुडी, गरबा अपना है.लेजिम, भंगड़ा, राई, डांडिया हर नूपुर का सपना है.गंग...
 पोस्ट लेवल : हिंदी
sanjiv verma salil
0
 दोहा सलिला:हिंदी वंदनासंजीव 'सलिल'*हिंदी भारत भूमि की आशाओं का द्वार.कभी पुष्प का हार है, कभी प्रचंड प्रहार..*हिन्दीभाषी पालते, भारत माँ से प्रीत.गले मौसियों से मिलें, गायें माँ के गीत..हृदय संस्कृत- रुधिर है, हिंदी- उर्दू भाल.हाथ मराठी-बांग्ला, कन्नड़ आधार रस...
 पोस्ट लेवल : दोहा हिंदी हिंदी
sanjiv verma salil
0
 नवगीत:हिंदी की जय हो...संजीव 'सलिल'*हिंद औरहिंदी की जय हो...*जनगण-मन की अभिलाषा है.हिंदी भावी जगभाषा है.शत-शत रूपदेश में प्रचलित.बोल हो रहा जन-जन प्रमुदित.ईर्ष्या, डाह, बैरमत बोलो.गर्व सहित बोलो निर्भय हो.हिंद औरहिंदी की जय हो...* ध्वनि विज्ञानं समाहित इसमें....
 पोस्ट लेवल : नवगीत हिंदी
sanjiv verma salil
0
 नवगीत:अपना हर पल है हिन्दीमय....संजीव 'सलिल'*अपना हर पल है हिन्दीमय एक दिवस क्या खाक मनाएँ?बोलें-लिखें नित्य अंग्रेजी जो वे एक दिवस जय गाएँ...*निज भाषा को कहते पिछडी. पर भाषा उन्नत बतलाते. घरवाली से आँख फेरकरदेख पडोसन को ललचाते. ऐसों की जमात में बोलो,हम कैसे...
 पोस्ट लेवल : नवगीत हिंदी