ब्लॉगसेतु

168
होली होली तो अब है गई, नहीं गया है रंग।कान्हा ने ऐसा रंगा, हुई राधिका दंग।। राधे पर है डालते, कृष्णा कितने रंग। झूम झूम के खेलते, होली दोनों संग।। सखियाँ चुन कर ला रही, है बगिया से फूल।लाल गुलाबी रंग ही ,राधा के अनुकूल।। कृष्णा लेकर आ रहे, रंग अबीर गुलाल। राधा के...
sanjiv verma salil
6
होली हो अबकी बरस *होली होली हो रही, होगी बारम्बार.होली हो अबकी बरस, जीवन का श्रृंगार.१.होली में हुरिया रहे, खीसें रहे निपोर.गौरी-गौरा एक रंग, थामे जीवन डोर.२.होली अवध किशोर की, बिना सिया है सून.जन प्रतिनिधि की चूक से, आशाओं का खून.३.होली में बृजराज को, राधा आय...
 पोस्ट लेवल : होली holi
PRABHAT KUMAR
146
होली का प्यारा लम्हा और तुम्हें ढेर सारा प्यार...............एक आरजू आज भी जिंदा हैहो वक़्त खूबसूरत इतना कि हम निकल पड़ें तुम्हारे करीब से बहुततुम छू न सको बस मुस्कुरा दो, लगे कि हम जिंदा हैंएक आरजू...तुम्हारी शरारतों से ज्यादा मोहब्बत कर ली थी मैंने शायदइसलिये तुम ज...
kumarendra singh sengar
28
आखिरकार होली हो ली. दिन भर धमाचौकड़ी चलती रही, कभी बच्चों की, कभी बड़ों की. इसी धमाचौकड़ी में मित्र-मंडली संग शहर की सुनसान पड़ी सड़कों पर टहलना हुआ. अलग-अलग रंग के, अलग-अलग जीव दिखाई दिए. कुछ रंग में मस्त, कुछ भंग में मस्त. कुछ तेज रफ़्तार बाइक में मगन, कुछ दारू के नशे...
जेन्नी  शबनम
63
रंगों की होली (10 हाइकु)   *******   1.   रंगो की होली   गाँठ मन की खोली   प्रीत बरसी।   2.   पावन होली   मन है सतरंगी   सूरत भोली।   3.   रंगों की झो...
 पोस्ट लेवल : हाइकु होली
शिवम् मिश्रा
16
नमस्कार साथियो, आखिरकार होली हो ली. दिन भर धमाचौकड़ी चलती रही, कभी बच्चों की, कभी बड़ों की. इसी धमाचौकड़ी में मित्र-मंडली संग शहर की सुनसान पड़ी सड़कों पर टहलना हुआ. अलग-अलग रंग के, अलग-अलग जीव दिखाई दिए. कुछ रंग में मस्त, कुछ भंग में मस्त. कुछ तेज रफ़्तार बाइक में मगन,...
Asha News
87
झाबुआ।  जिले भर में होलीका दहन के दूसरे दिन ग्रामीण जन मनाते है गल बाबजी का त्यौहार (गल पर्व ) यहाँ से 4 किलोमीटर की दुरी पर ग्राम झुमका में ग्रामीणों द्वारा गल का त्यौहार मनाया गया, यहाँ आसपास के क्षेत्र के मन्नत धारी भी पहुचते है सभी अपनी मानता पूरी करने गल...
 पोस्ट लेवल : होली झाबुआ cultural गल पर्व
shashi purwar
130
फागुन की मनुहार सखी रीउपवन पड़ा हिंडोला चटक नशीले टेसू ने फिर प्रेम रंग है घोला गंध पत्र ऋतुओं ने बाँटे मादक सी पुरवाई  पतझर बीता, लगी  उमड़ने मौसम  की अंगड़ाई छैल छबीले रंग फाग के मन भी मेरा डोला चटक नशीले ट...
Asha News
87
सामाजिक कुरूतियों का किया गया दहनझाबुआ।  राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना द्वारा स्थानीय विजय स्तंभ तिराहे के समीप श्री राजपूत बोर्डिंग हाउस पर बुधवार को रात्रि 8.20 बजे होलिका दहन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। करणी सेना द्वारा अनोखे रूप से आयोजन करते हुए सूखे कंडों...
सुमन कपूर
316
भर दो हर दिल में मोहब्बत का रंग, मेरे मौला कि मज़हबी रंग गुलाल-ए-अमन में बदल जाए !!सु-मन