ब्लॉगसेतु

शिवम् मिश्रा
13
खामोश है जो यह वो सदा है, वो जो नहीं है वो कह रहा है , साथी यु तुम को मिले जीत ही जीत सदा |बस इतना याद रहे ........ एक साथी और भी था || जाओ जो लौट के तुम, घर हो खुशी से भरा, बस इतना याद रहे ........ एक साथी और भी था || कल पर्वतो पे कही बरसी थी जब गोलियां , हम...
शिवम् मिश्रा
13
खामोश है जो यह वो सदा है, वो जो नहीं है वो कह रहा है , साथी यु तुम को मिले जीत ही जीत सदा |बस इतना याद रहे ........ एक साथी और भी था || जाओ जो लौट के तुम, घर हो खुशी से भरा, बस इतना याद रहे ........ एक साथी और भी था || कल पर्वतो पे कही बरसी थी जब गोलियां , हम...
 पोस्ट लेवल : कारगिल विजय दिवस 26/07
शिवम् मिश्रा
13
खामोश है जो यह वो सदा है, वो जो नहीं है वो कह रहा है , साथी यु तुम को मिले जीत ही जीत सदा |बस इतना याद रहे ........ एक साथी और भी था || जाओ जो लौट के तुम, घर हो खुशी से भरा, बस इतना याद रहे ........ एक साथी और भी था || कल पर्वतो पे कही बरसी थी जब गोलियां , हम ल...
 पोस्ट लेवल : कारगिल विजय दिवस 26/07
शिवम् मिश्रा
13
खामोश है जो यह वो सदा है, वो जो नहीं है वो कह रहा है , साथी यु तुम को मिले जीत ही जीत सदा |बस इतना याद रहे ........ एक साथी और भी था || जाओ जो लौट के तुम, घर हो खुशी से भरा, बस इतना याद रहे ........ एक साथी और भी था || कल पर्वतो पे कही बरसी थी जब गोलियां , हम लो...
 पोस्ट लेवल : कारगिल विजय दिवस 26/07
शिवम् मिश्रा
13
खामोश है जो यह वो सदा है, वो जो नहीं है वो कह रहा है , साथी यु तुम को मिले जीत ही जीत सदा |बस इतना याद रहे ........ एक साथी और भी था || जाओ जो लौट के तुम, घर हो खुशी से भरा, बस इतना याद रहे ........ एक साथी और भी था || कल पर्वतो पे कही बरसी थी जब गोलियां , हम ल...
 पोस्ट लेवल : कारगिल विजय दिवस 26/07
शिवम् मिश्रा
3
प्रिय ब्लॉगर मित्रों,प्रणाम !कारगिल युद्ध को ख़त्म हुये आज  पूरे चौदह वर्ष हो गए। कारगिल के विजय अभियान को चलाए गए ऑपरेशन विजय में भारत ने अपने 527 वीर सपूतों को खो दिया था। वहीं इस युद्ध में पंद्रह सौ जवानों के करीब घायल भी हो गए थे। लेकिन इन जवानों के हौंस...
शिवम् मिश्रा
13
खामोश है जो यह वो सदा है, वो जो नहीं है वो कह रहा है , साथी यु तुम को मिले जीत ही जीत सदा |बस इतना याद रहे ........ एक साथी और भी था || जाओ जो लौट के तुम, घर हो खुशी से भरा, बस इतना याद रहे ........ एक साथी और भी था || कल पर्वतो पे कही बरसी थी जब गोलियां , हम लो...
 पोस्ट लेवल : 26/07 कारगिल विजय दिवस
शिवम् मिश्रा
13
खामोश है जो यह वो सदा है, वो जो नहीं है वो कह रहा है , साथी यु तुम को मिले जीत ही जीत सदा |बस इतना याद रहे ........ एक साथी और भी था || जाओ जो लौट के तुम, घर हो खुशी से भरा, बस इतना याद रहे ........ एक साथी और भी था || कल पर्वतो पे कही बरसी थी जब गोलियां , हम लो...
 पोस्ट लेवल : 26/07 कारगिल विजय दिवस