ब्लॉगसेतु

Bharat Tiwari
23
दंगा भेजियो मौला— अनिल यादव हिंदी कहानीकोरोना की तालाबंदी में क़ैद पाठक को अनिल यादव की हिंदी कहानी 'दंगा भेजियो मौला' उनमें से एक सिरा पकड़ा सकती है जो उसे अपनी वर्तमान लाचार और बेबस हालत के होने का कारण दिखा सकता है और बता सकती है कि उस कारण में उसका क्या...
Bharat Tiwari
23
धामा अपने गुस्से को छिपाकर अचानक संयत हो गया. उसने कपट की अधिकता से हल्की हो गई आवाज में कहा, "देख रहे हैं सर...आप भी देखते जाइए. याद करिएगा...राजेंद्र यादव हंस कथा सम्मान 2019 : अनिल यादव की कहानी "गौसेवक " इस कहानी को २०१९ का हंस कथा सम्मान दिए जाते समय जो ब...