ब्लॉगसेतु

Vidyut Maurya
24
गोपालगंज के बसडीला में रात को रामचंद्र चाचा जी के घर सोने से पूर्व चाची ने कहा था कि सुबह 4 बजे घर के बाहर से ही पटना की सीधी बस मिल जाएगी। बस स्टैंड जाने की कोई जरूरत नहीं है। तो हमलोग चार बजे सुबह के बाद तैयार होकर घर से बाहर निकल हाईवे एनएच 27 पर खड़े हो गए। थोड...
 पोस्ट लेवल : BIHAR
Vidyut Maurya
24
कुशीनगर हाईवे पर पहुंच कर आगे के लिए वाहन का इंतजार कर रहा हूं। एक आटो रिक्शा मिला जिसने मुझे कसेया बाजार के बस स्टैंड तक छोड़ दिया। लोगों ने सलाह दीकि यहां से सीधे गोपालगंज की बस का इंतजार करने के बजाय तमकुही राज तक चले जाएं। वहां से दूसरी बस मिल जाएगी। पांच मिनट...
 पोस्ट लेवल : UTTAR PRADESH BIHAR
Juban-ए- दास्तां
602
    जीवन भर नर्तन किया, फिर ली आंखें मूँद ।   गर्म तवे पर नाचती, ज्यों छन-छन-छन बूँद ।।  ****'अंकुर'! मन के कुम्भ में, डाल प्रेम का इत्र । पीकर  महके मित्र बन, सारे शत्रु विचित्र ।।   ****रंच नहीं कटुता कहीं ,ऐसा हो संसार  । तब भव - सागर पार हो, तेरा-मेरा प्यार  ।।...
 पोस्ट लेवल : Bihari dohe दोहे Dohe Hindi Kavita
Brajesh Kumar Pandey
351
इस यात्रा के बारे में शुरू से पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें–बिहार का जहानाबाद जिला। दिन के 10 बजे जब मैं बराबर पहुँचा तो धूप मेरे बराबर हो गयी थी। और अब मुझसे आगे निकलने की होड़ में थी। मुझे बराबर की पहाड़ियों पर इसी तपती धूप में ऊपर चढ़ना था तो मैं सामने आने वाली प...
Brajesh Kumar Pandey
351
इस यात्रा के बारे में शुरू से पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें–नालंदा से 3 बजे पावापुरी के लिए चला तो आधे घण्टे में पावापुरी के जलमंदिर पहुँच गया। नालंदा के खण्डहरों से इसकी दूरी 15 किमी है। दोनों स्थानों के बीच सीधा रास्ता नहीं है। कई सम्पर्क मार्गाें से होते हुए जाना...
Brajesh Kumar Pandey
351
इस यात्रा के बारे में शुरू से पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें–दिन के 11 बज चुके थे। राजगीर के बस स्टैण्ड चौराहे पर 30 रूपये वाला ʺमेवाड़ प्रेम मिल्क शेकʺ पीकर मैं नालन्दा की ओर चल पड़ा। लगभग 12 किमी की दूरी है। लेकिन नालन्दा पहुँचने से पहले राजगीर से लगभग 7 किमी की दू...
Brajesh Kumar Pandey
351
इस यात्रा के बारे में शुरू से पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें–अब मेरी अगली मंजिल थी– विश्व शांति स्तूप। ब्रह्म कुण्ड से लगभग 2-2.5 किमी आगे चलने पर मुख्य सड़क छोड़कर बायें हाथ एक सड़क निकलती है जहाँ विश्व शांति स्तूप के बारे सूचना दी गयी है। मैं इसी सड़क पर मुड़ गया।...
Brajesh Kumar Pandey
351
14 अप्रैल 2019गर्मी की शुरूआत हो चुकी है। सूखे मौसम में सूरज तपन फैला रहा है। इधर मन में मरोड़ उठी है और घोड़ा तैयार होने लगा है– पूरब की यात्रा के लिए। मेरे लिए पूरब अर्थात बिहार। बिहार– जहाँ के लोग कभी पूरब की ओर जाते थे– ʺरोजी–रोटी की तलाश में।ʺ उनके लिए पूरब अर...
S.M. MAsoom
31
 जौनपुर के शार्की सल्तनत पे शोध के दौरान पटना के बुहार सग्रहालय जा पहुँच जहाँ मुझे शोध में तो मदद मिली कई रहस्यों से पर्दा उठाने का मौक़ा मिला जो जल्द आपके सामने होगा लेकिन इस शोध के दौरान मझे बिहार म्यूजियम में एक 20 करोड़ वर्ष पुराना पेड़ मिला जो अब पथ्थर में ब...
 पोस्ट लेवल : bihar museum history Patna aaspaas
Akhilesh Karn
258
गायक : सुनील छैला बिहारी, अंतरा सिंह प्रियंकागीतकार: अनिता बिहारीसंगीत: शिवम बिहारीलव करके भागे हैं घर से बिहार लौट न पाएंगेठीक है ...... ठीक है.......लव करके भागे हैं घर से बिहार लौट न पाएंगेठीक है ...... एकदम ठीक है......लिट्‌टी चोखा खाएंगे यूपी में बस जाएंगेठी...
 पोस्ट लेवल : subil chhaila bihari bihar UP