ब्लॉगसेतु

S.M. MAsoom
89
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); किसकी इज़्ज़त की जाय किसको दोस्त रखा जाय, किस्से ताल्लुक़ात रखा जाय किससे परहेज़ किया जाय यह आज के दौर में एक बड़ा मुश्किल मसला बन के उभरता जा रहा है | मुसलमान के लिए तो कम से कम यह मसला नहीं होना चाहिए क्यों की न क़ुर...
 पोस्ट लेवल : editorial
S.M. MAsoom
152
आज के ज़माने में किसी की पीठ पीछे बुराई करना एक आम बात है और मित्र अपनी वफादारी का सुबूत देने के लिए आपके पास आ के वो सब बताते हैं की कौन आपके पीठ पीछे आपके बारे में क्या कह रहा था ? देखने में तो ऐसा लगता है की यह जो आपको खबर दे रहे हैं यह आपके शुभचिंतक है लेकि...
 पोस्ट लेवल : Editorial
S.M. MAsoom
40
Discover Jaunpur (English), Jaunpur Azadari Admin and Founder S.M.MasoomCont:9452060283 window.wvData=window.wvData||{};function wvtag(a,b){wvData[a]=b;} wvtag('id', '_DSbCnF2Ys4XXsWfufSZLw'); (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).pus...
 पोस्ट लेवल : YOGA DAY editorial admin
S.M. MAsoom
72
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); आज जहाँ एक तरफ कोरोना की वजह से मस्जिदें इमामबाड़े और मिम्बर सूने पड़े हैं तो वहीँ दुसरी तरफ ऑनलाइन मजलिसों का सिलसिला शुरू हो चूका है | आज लोग अपने मरहुमीन के इसाल ऐ सवाब के लिए ,सोयुम चालीसवें और बरसी की मजल...
 पोस्ट लेवल : majlis Editorial अज़ादारी
S.M. MAsoom
89
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); आज जहाँ एक तरफ कोरोना की वजह से मस्जिदें इमामबाड़े और मिम्बर सूने पड़े हैं तो वहीँ दुसरी तरफ ऑनलाइन मजलिसों का सिलसिला शुरू हो चूका है | आज लोग अपने मरहुमीन के इसाल ऐ सवाब के लिए ,सोयुम चालीसवें और बरसी की मजलिसें...
 पोस्ट लेवल : majlis मजलिस editorial mimber
S.M. MAsoom
40
आज महानगरों से अपने वतन लौटते लोगों को देख क़ैस ज़ंगीपुरी के कलाम याद आ गए "हज़ार सामा हो साथ लेकिन, सफ़र सफ़र है वतन वतन है|  लगभग चालीस वर्षों से यह देखा गया है की लोग रोज़गार की तलाश में महानगरों की तरफ रुख करते हैं और सुख सुविधाओं के मिलने के बाद वहीँ के...
S.M. MAsoom
152
मुझे याद आ गया ३०-३२ साल पुराना वो दिन जब मैं मुंबई में नया नया था , इलाकों के बारे में अधिक जानकारी नहीं थी | बस एक दिन बैंक से निकला और मुंबई के कमाठीपुरा के पीला हाउस वाली सड़क में चल पड़ा इरादा था की मुंबई सेंट्रल की तरफ जा के देखा जाय कैसा इलाका है | उस...
S.M. MAsoom
89
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); यदि आपको यह मालूम हो चूका है की अगर आप सावधान न रहे तो आपको ऐसी बीमारी लग सकती है जो जानलेवा है और फिर भी  सावधानी नहीं बरत रहे तो यह खुद खुशी कहलाएगी | हाँ आपने सावधानी बरती फिर भी लग जाय तो मसला अलग है और...
 पोस्ट लेवल : suicide features FEATURED khudqushi latest editorial
Bharat Tiwari
23
जेनयु  हिंसा: नए दुश्मन तलाशती सर्वनाशी राजनीति— प्रताप भानु मेहतायह तिहरे अर्थ में सर्वनाशी है. मीडिया के सहयोग से गृह मंत्री के बढ़ावे से “टुकड़े टुकड़े गैंग” मुहावरे का सामान्यिकरण किये जाने ने, बहसों में इस तरह की हिंसा की ज़मीन तैयार की. प्रताप भानु मेह...
Bharat Tiwari
23
अब यूपी को भी इंटरनेट बंदी की आदत होते जा रही है...रवीश कुमारदिल्ली के टीवी स्टुडियो थीम और थ्योरी की बहस में चले गए हैं, जबकि ग्राउंड पर अब भी कहानियां आप तक पहुंचने के लिए सिसक रही हैं. 18 साल के आमिर हंज़ला को उसके पिता टीवी के डिबेट से लेकर पटना की गलियों म...