ब्लॉगसेतु

MediaLink Ravinder
430
 डिफरेंट मूड्स ऑफ़ लॉकडाउन पर विशेष चर्चा इस पोस्ट में ख़ास नई दिल्ली: 4 मई 2020: (हिंदी स्क्रीन ब्यूरो)::लॉक डाउन ने सभी को घरों में बंद कर दिया लेकिन दिल और दिमाग में छुपी रचनात्मक ऊर्जा का क्या करे? यह ऊर्जा कहां बंद होती है? ये जज़्बात कहाँ रुकते है...
MediaLink Ravinder
430
लेकिन कामरेड समता तदबीरों को छोड़ कर लकीरों की तरफ क्यूं?लुधियाना: 30 मार्च 2020: (रेक्टर कथूरिया//हिंदी स्क्रीन)::जब जब भी मुलाकात हुई मुझे हर बार जसप्रीत कौर समता वाम विचारधारा से प्रभावित लडकी लगी।  कभी कभी तो मुझे उस पर यह प्रभाव जनून की हद तक भी महसूस...
MediaLink Ravinder
430
क्या बतलायें  कैसे हमपे  दुनिया के सब वार चले!दोधारी तलवार था जीवन फिर भी हम हर बार चले!मौत से आँख मिलाई हमने तांकि घर संसार चले!आग का इक दरिया था जीवन फिर भी हमने कदम रखा;तांकि शायद सकूं का जीवन हमको भी उस पार मिले! किस...
MediaLink Ravinder
430
दिल में है जज़्बा, हथेली पे जान है! वहां बैठी हर एक औरत महान हैकहां है शाहीन बाग! कहां है शाहीन बाग!पूछते हैं आज सभी कहां है शाहीन बाग! जहां से बुलन्द हुई देश की आवाज़ है!जहां पे छिड़ा है कुर्बानियों का साज़ है!वही है शाहीन बाग! वही है शाहीन बाग!पूछते हैं आज...
MediaLink Ravinder
430
डा. राजिंद्र टोकि की पुस्तक पर प्रपत्र वचन होगा डा. अनु शर्मा कौल कालुधियाना: 23 जनवरी 2020: (हिंदी स्क्रीन ब्यूरो)::  जब अधिकतर लोग जाने अनजाने अपनी ऊर्जा सियासतदानों के प्रभाव में आ कर सोशल मीडिया के अलग अलग मंचों पर व्यर्थ गंवा रहे हैं उस माहौल मे...
MediaLink Ravinder
430
Tuesday: 8th January 2020 at 3:44 PMयह पुस्तक मेला गांधी जी को समर्पित हैनई दिल्ली: 7 जनवरी 2020: (कविता वर्मा//हिंदी स्क्रीन)::दिल्ली के विश्व पुस्तक मेले का इंतजार पुस्तक प्रेमियों लेखकों और प्रकाशकों को साल भर रहता है। अभी कुछ वर्षों से यह जनवरी के प्र...
MediaLink Ravinder
430
इसके बाद कौंधती हैं दिमाग में यादों की बिजलियां अब तुम कही भी नही होकही भी नहीना मेरी यादो मेंन मेरी बातो मेंअब मैं मसरूफ रहती हूँदाल के कंकड़ चुन'ने मेंशर्ट के दाग धोने मेंक्यारी में टमाटर बोने मेंएक पल भी मेराकभी खाली नही होताजो तुझे याद करूँया तुझे महसूस करू...
PRAVEEN GUPTA
86
भारतेन्द्र हरिश्चन्द्र आधुनिक हिंदी साहित्य के पितामह कहे जाते हैं।भारतेन्दु हिन्दी में आधुनिकता के पहले रचनाकार थे। जिस समय भारतेन्दु हरिश्चन्द्र का अविर्भाव हुआ, देश ग़ुलामी की जंजीरों में जकड़ा हुआ था। अंग्रेज़ी शासन में अंग्रेज़ी चरमोत्कर्ष पर थी। शासन तंत्र से...
E & E Group
238
The link Of today is-http://hindianexpress.com/ स्वयंसेवी भावना से देश की अस्मिता, प्रतिष्ठा व उसकी विरासत को निंरतर बनाये रखने के लिए संगठित कुछ लोगों का समूह हैं जिनका उद्देश्य वेब-जर्नलिज़्म के माध्यम से देश की विभिन्न समस्याओं को उठाकर उसका चिर समाधान ढूंढने...
 पोस्ट लेवल : Hindi Literature Zone
E & E Group
238
The link Of today is-http://www.shabdankan.com/
 पोस्ट लेवल : Hindi Literature Zone