ब्लॉगसेतु

हर्षवर्धन त्रिपाठी
0
भारतीय संविधान निर्माताओं ने जब संविधान बनाया था तो स्पष्ट तौर पर उसमें यह व्यवस्था स्पष्ट करने की कोशिश की थी कि किसी भी हाल में विधायिका, न्यायापालिका और कार्यपालिका के बीच किसी तरह का टकराव न हो। हालाँकि, इसमें लोकतंत्र की मूल भावना का ख्याल रखते हुए विधायिका और...
हर्षवर्धन त्रिपाठी
0
 पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह लगातार 10 वर्षों तक देश के प्रधानमंत्री रहे, लेकिन आज भी जब डॉ मनमोहन सिंह की बात होती है तो पहली&nb...
MediaLink Ravinder
0
Saturday: 26th September 2020 at 09:55 PM via WhatsApp नए कृषि कानूनों को किसानों के लिए फायदेमंद बताने का मंत्र जारी *सुनाम में भाजपा नेता ऋषि पाल खेरा संभाली प्रचार की कमान *फसल का उचित मूल्य व किसानों की आय दोगुनी करने के लिए म...
MediaLink Ravinder
0
23-सितम्बर-2020 10:15 IST'रीचिंग द अनरिच्‍ड-वॉइसेज ऑफ द बेनिफिसिएरीज' जारी नई दिल्ली: 23 सितंबर 2020: (पीआईबी//हिंदी स्क्रीन)::न्याय विभाग ने टेली-लॉ कार्यक्रम पर सफलता की कहानियों की पहली पुस्तिका का ई-संस्करण 'रीचिंग द अनरिच्‍ड - वॉइसेज ऑफ द बेनिफिसिएरी...
 पोस्ट लेवल : Hindi New Books Ministery Law Justice PIB Govt News Books
Asha News
0
पेटलावद। शहर में  इन दिनों संपत्ति संबंधी अपराधों में फरार आरोपी की धरपकड़ का विशेष अभियान चलाया जा रहा है जिसमें जिले के सभी थाना प्रभारीयो को सम्पत्ति सम्बंधित अपराधों में जो फरार आरोपी चल रहे है उनको पकड़ने के लिए निर्देशित किया है। इस अभियान को गति देने...
 पोस्ट लेवल : petlawad पेटलावद crime
दिनेशराय द्विवेदी
0
पिछले चार-पाँच दिनों से जिस तरह की रिपोर्टें आ रही हैं उन से लग रहा था कि भारत में 75-80 प्रतिशत कोरोना संक्रमित ऐसे हैं जिनमें कोई लक्षण ही नहीं नजर आ रहे हैं। वे समाज में खुले घूम रहे हैं और निश्चित ही अनेक को संक्रमित भी कर रहे हैं। इस पर कल ही लिखना चाहता था, प...
दिनेशराय द्विवेदी
0
मजदूरों के पलायन की वजह क्या थी?भारत के प्रधानमंत्री ने 24 मार्च 2020 की शाम 8 बजे टीवी-रेडियो से जीवित प्रसारण में सूचना दी कि कोविद-19 महामारी से बचाव के लिए आधी रात अर्थात 25 मार्च शुरु होते ही देश भर में 21 दिनों का लॉकडाउन आरंभ हो जाएगा। इस के पहले उन्होंने 19...
आदित्य सिन्हा
0
G for Galouti Kebab - From the Lands of Nawab (Lucknow - UP)One of the common dish from G that we devour upon are the  Gol Guppas or Paani Puri. This street food you would find in each market of the country and the outlet would be surrounded by foodies in madn...
दिनेशराय द्विवेदी
0
छँटनी की परिभाषा बदलने से जन्मी श्रमिक-कर्मचारियों की नई श्रेणीदेश के श्रम न्यायालयों और औद्योगिक न्यायाधिकरणों में जो प्रकरण लंबित हैं, मेरे अनुमान के अनुसार उनमें से 80 प्रतिशत से अधिक केवल छंटनी के मामले हैं। 1984 में छंटनी की परिभाषा में परिवर्तन के पहले तक उसक...
दिनेशराय द्विवेदी
0
श्रम कानून में परिवर्तन से मजदूर वर्ग की स्थिति कैसे बदतर हुई?फरवरी 1978 में सुप्रीमकोर्ट के 7 न्यायाधीशों की वृहत पीठ ने बैंगलोर वाटर सप्लाई एण्ड सीवरेज बोर्ड व अन्य बनाम आर. राजप्पा व अन्य के मुकदमे में निर्णय पारित कर यह स्पष्ट कर दिया था कि किस तरह के संस्थानों...