ब्लॉगसेतु

Jot Chahal
79
Poetry Name: Samaa Nahi (Don't Have Time)Poet: Ranjot Singh (Jot Chahal)Date: 12 January 2020 Time: 3.30 PM Language: Punjabi" ਸਮਾਂ ਨਹੀਂ "ਸਭ ਖੁਸ਼ੀਆਂ ਨੇ ਲੋਕਾਂ ਦੇ ਵਿਹੜਿਆਂ ਵਿੱਚਪਰ ਹੱਸਣ ਲਈ ਹੁਣ ਸਮਾਂ ਨਹੀਂਦਿਨ ਰਾਤ‌ ਦੁਨੀਆਂ ਭੱਜਦੀ ਹੈਪਰ ਜਿੰਦਗੀ ਦੇ ਲਈ ਸਮਾਂ ਨਹੀਂਮਾਂ ਦੀ ਲੋ...
 पोस्ट लेवल : Ranjot Singh Poetry
MediaLink Ravinder
457
Sent: Friday: 10th January 2020:Whats appदिल को छोड़ कर वह देश से पूछती है-हुआ क्या है!लुधियाना: 12 जनवरी 2020: (हिंदी स्क्रीन डेस्क)::कभी जनाब मिर्ज़ा ग़ालिब साहिब ने लिखा था--दिल-ए-नादां तुझे हुआ क्या है!आखिर  इस दर्द की दवा क्या है! यह ग़ज़ल बहुत मकबूल हुई...
 पोस्ट लेवल : Rajni Sharma India Public Communal Poison Country Poetry
MediaLink Ravinder
457
हिंदी में फिल्में देखी और गीत सुने ! हिंदी में ही बातें की और स्वप्न बुने!हिंदी में जो अपनत्व है वह और कहां !हिंदी में जो ममत्त्व है वह और कहां !हिंदी में कुछ कहें तो अपना लगता है !बाकी सब कुछ सपना सपना लगता है !हिंदी में ही सोचना अच्छा लगता है !हिंदी में ही ब...
 पोस्ट लेवल : Hindi Kartika Singh Hindi Divas Poetry
MediaLink Ravinder
413
भाषा को सियासत की साज़िशों का शिकार न होने दें लुधियाना: 10 जनवरी 2020: (कार्तिका सिंह//इर्द गिर्द डेस्क):: भाषा को सम्मान देने की बजाये उसे हथियार बना लिया गया है। सियासत एक बार फिर अपनी नापाक चाल चल रही है। कभी पंजाबी के खिलाफ, कभी अंग्रेजी के...
MediaLink Ravinder
38
ग़ालिब साहिब की ग़ज़ल पर आधारित यह गीत सीधा दिल में उतरता है दिल-ए-नादां तुझे हुआ क्या है?आख़िर इस दर्द की दवा क्या है?मैं इसे बचपन की उस उम्र से सुनता आ रहा हूँ जब मुझे न तो उर्दू की समझ थी  की। मेरे मामा ज्ञानी राजिंदर सिंह छाबड़ा (फ़िरोज़पुर) उन दि...
 पोस्ट लेवल : Mirza Ghalib Film Music History Urdu Poetry YouTube
MediaLink Ravinder
457
इसके बाद कौंधती हैं दिमाग में यादों की बिजलियां अब तुम कही भी नही होकही भी नहीना मेरी यादो मेंन मेरी बातो मेंअब मैं मसरूफ रहती हूँदाल के कंकड़ चुन'ने मेंशर्ट के दाग धोने मेंक्यारी में टमाटर बोने मेंएक पल भी मेराकभी खाली नही होताजो तुझे याद करूँया तुझे महसूस करू...
Jot Chahal
79
Sacha Pyaar Nahi Hai (Hindi Poetry by Ranjot Singh ) Book Name:  The Voice of Heart Ebook : click here for buyPaperback : Click here for buy***सच्चा प्यार नहीं है***समुंदर में कश्ती किनारा नहीं है, तेरा मुझसे मिलना दोबारा नहीं, बातें व...
 पोस्ट लेवल : Ranjot Singh Shayari by Jot Jot Chahal Poetry
यूसुफ  किरमानी
196
मुँह पर साफ़ा बाँधे गुंडों की पहचान कैसे होगीवे सिर्फ जेएनयू में नहीं हैंवे सिर्फ एएमयू में नहीं हैंवे सिर्फ जामिया में नहीं हैंवे कहाँ नहीं हैंवे अब वहां भी है, जहां कोई नहीं है वे तो बिजनौर,मेरठ से लेकर मंगलौर तक में हैवे चैनलों में हैंवे अखबारों में हैंवे मंत्रा...
 पोस्ट लेवल : Hindi Poem Hindi Poetry Hindi Kavita Politics
rishabh shukla
434
नमस्कार,स्वागत है आप सभी का यूट्यूब चैनल "मेरे मन की" पर|"मेरे मन की" में हम आपके लिए लाये हैं कवितायेँ , ग़ज़लें, कहानियां और शायरी|आप अपनी रचनाओं का यहाँ प्रसारण करा सकते हैं और रचनाओं का आनंद ले सकते हैं| #meremankee के YouTube चैनल को सब्सक्राइब करना...
rishabh shukla
434
#MereManKeeमेरा नाम ऋषभ शुक्ला है| मैं एक छाया चित्रकार, यात्री और चिट्ठा लेखक हूँ| मुख्य रूप से मुझे लिखना-पढ़ना, घूमना-फिरना और विभिन्न चीजों को कैमरे मे कैद करना पसंद है| मुझे कुछ नया करना पसंद है| इस चैनल के माध्यम से मैं ऐसे ही अनेक वीडियो के साथ प्रस्तुत हूँ|...