ब्लॉगसेतु

Bharat Tiwari
23
अनुपम मिश्र की पुस्तक 'विचार का कपड़ा' की समीक्षा और चर्चाdescriptionवरिष्ठ आलोचक श्री रवींद्र त्रिपाठी के साथ, अनुपम मिश्र की पुस्तक 'विचार का कपड़ा पर चर्चा.21 जून, रविवार, के 'शब्दांकन फेसबुक लाइव' कार्यक्रम 'एक पुस्तक पर पांच मिनट'प्रस्तुति भरत एस तिवारी, शब...
Bharat Tiwari
23
बिसात पर जुगनूवंदना राग का उपन्यासBisat Par Jugnu by Vandana Ragवंदना राग का उपन्यास 'बिसात पर जुगनू'. वरिष्ठ आलोचक श्री रवीन्द्र त्रिपाठी, #शब्दांकन_फेसबुक_लाइव 8 जून, शाम 6 बजे, कार्यक्रम 'एक पुस्तक पर पाँच मिनट' - प्रस्तुति भरत एस तिवारीPosted by शब्दांकन Sha...
Bharat Tiwari
23
असहमति में उठा एक हाथविष्णु नागर लिखित रघुवीर सहाय की जीवनीAsahmati Mein Utha Ek Hath : Raghuvir Sahay Ki Jeewani by Vishnu Nagarविष्णु नागर लिखित रघुवीर सहाय की जीवनी "असहमति में उठा एक हाथ" वरिष्ठ आलोचक श्री रवीन्द्र त्रिपाठी, #शब्दांकन_फेसबुक_लाइव 5 जून, शाम 6...
Bharat Tiwari
23
अनासक्त आस्तिकजैनेन्द्र कुमार की ज्योतिष जोशी लिखित जीवनीAnasakt Aastik : Jainendra Kumar Ki Jeewani by Jyotish Joshiजैनेन्द्र कुमार की ज्योतिष जोशी लिखित जीवनी अनासक्त आस्तिक. वरिष्ठ आलोचक श्री रवीन्द्र त्रिपाठी, #शब्दांकन_फेसबुक_लाइव 4 जून, शाम 6 बजे, कार्यक्रम '...
Bharat Tiwari
23
रघुवीर सहाय की ये 5 बेहतरीन अंतिम कविताएँउनके मरणोपरांत प्रकाशित अंतिम कविता संग्रह 'एक समय था' से हैं.संग्रह के संपादक सुरेश शर्मा लिखते हैं: "इसमें अधिकांश कविताएँ उनके जीवन के आख़िरी चार-पाँच वर्षों की हैं जो कि ज्यादातर अप्रकाशित हैं। सहायजी के निधन के बाद...
Bharat Tiwari
23
Love Poems in Hindiहम जानते हैं, जिसका अतीत नहीं होता, उसका भविष्य भी नहीं होता। जो केवल वर्तमान में रहता है, वह किसी प्रकार का रचनात्मक कर्म नहीं संवार सकता। इसलिए सुमन की कविताएं अतीत विरह की नहीं, अतीत अहसास की कविताएं हैं। — मृदुला गर्ग (adsbygoogle =...
Bharat Tiwari
23
वंदना राग - नावेल: बिसात पर जुगनू - अंशलोग परगासो के पैरों में छिपकर अक्षत-चावल यूँ ही सरका देते थे कि अब करिश्मा हो ही जाए। उनके नज़रों के सामने से हटने के बाद परगासो अपने पैरों की ठोकर से सब बिखेर देती थी। ‘हट्ट इससे कोई करिश्मा होगा? करिश्मा तो गैंती को तलवार की...
Bharat Tiwari
23
भारतीय पॉप संगीत की महारानी उषा उथुप की जीवनी ‘उल्लास की नाव’ का लोकार्पणविकास कुमार झा ने अथक प्रयासों से इस जीवनी को तैयार किया है जिसमें उषा उथुप के जीवन के लगभग हर पहलू को वे सामने ला सके हैं।(ब्यूरो)भारत में पॉप संगीत को एक नया आयाम, नई ऊंचाई देने वालीं उषा उथ...
Bharat Tiwari
23
हम नहीं चंगे बुरा न कोय“पल्प फिक्शन”, 2004 के इकॉनोमिक टाइम्स में यह आर्टिकल छपा था, शायद वह पहली दफा था जब मैंने अपने लड़कपन के प्रिय जासूसी उपन्यासकारों वेद प्रकाश शर्मा और सुरेन्द्र मोहन पाठक के विषय में अखबार में पढ़ा था, साथ में राजहंस, गुलशन नंदा, नरेंद्र कोहली...
Bharat Tiwari
23
अरुंधति रॉय इन हिंदी — स्वतंत्र किन्तु जाति व्यवस्था में आकंठ डूबा भारत राष्ट्र — एक था डॉक्टर एक था संतकि क्याक्या गाँधी नही थे और क्याक्या आंबेडकर थेअरुंधति राय की किताब उनकी भाषा सब उनके निर्भीक तेवर के होते हैं। कुछ समय पहले अंग्रेजी में प्रकाशित उनकी किताब 'द...