ब्लॉगसेतु

MediaLink Ravinder
460
देश प्रेम और अध्यात्म चर्चा की संगीतमय प्रस्तुति लुधियाना: 27 जनवरी 2019: (मीडिया लिंक रविन्द्र//आराधना टाईम्ज़ टीम)::गणतंत्र दिवस की संध्या। तिरंगा फहराने के बहुत से आयोजन। उसके बाद थके मांदे लोग। जब शाम को सारा उत्साह समाप्त हो चूका था उस समय मिली एक नयी ऊर्ज...
Dev datt
570
(26 जनवरी को क्यो मनाया जाता हे गणतंत्र दिवस? History Of Indian Republic Day - 26 January)२६ जनवरी...!! जब भारत अपना ७० वा गणतंत्र दिवस यानी republic दिवस मनायेगा... पर बहोतसे लोगो को गणतंत्र, गणतंत्र दिवस या अनेक विषयो के बारेमे आजभी पता नही हे. हमारा गणतंत्र दिवस...
Kavita Rawat
193
..............................
E & E Group
14
गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं , संविधा&#2344...
 पोस्ट लेवल : Republic Day
Kavita Rawat
193
हम भाँति-भाँति के पंछी हैं पर बाग़ तो एक हमारा हैवो बाग़ है हिन्दोस्तान हमें जो प्राणों से भी प्यारा हैहम  हम भाँति-भाँति के पंछी ………………………बाग़ वही है बाग़ जिसमें तरह-तरह की कलियाँ होंकहीं पे रस्ते चंपा के हों कहीं गुलाबी गलियाँ होंकोई पहेली कहीं नहीं है, सीधा साफ़...
rambilas garg
124
                 आज गणतंत्र दिवस की पूर्वसंध्या है। इस दिन महामहिम राष्ट्रपति महोदय राष्ट्र के नाम सन्देश देते हैं। ये राष्ट्र कौन है और कहां रहता है ये मुझे कभी पता नही रहा। सो ये सोचक...
HARSHVARDHAN SRIVASTAV
215
सभी भारतवासियों को 66वें गणतन्त्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ। जय हिन्द। जय भारत।।भारत के 66वें गणतन्त्र दिवस के उपलक्ष्य में गूगल का डूडलKeywords खोजशब्द :- Republic Day of India, Google Doodle on Republic Day of India, भारत का गणतंत्र दिवस
गोविन्द सिंह
437
गणतंत्र दिवस/ गोविन्द सिंहभारतीय गणतंत्र के ६५वें जन्म दिन पर सबसे बड़ा सवाल यही है कि बीते ६४ वर्षों में हमारा तंत्र अपने गण के कितने निकट पहुँच पाया है? वह स्वाधीनता संग्राम के सपनों को कहाँ तक साकार कर पाया है? यहाँ स्वाधीनता संग्राम के सपनों का सन्दर्भ इसलिए दिय...
 पोस्ट लेवल : gram Swaraj Gram Ganrajya Article republic day
गोविन्द सिंह
437
विमर्श/ गोविंद सिंह अमेरिकी लेखक मार्क ट्वेन ने लिखा है, ‘भारत मानव जाति का अवलम्ब है, मानवीय आवाज की जन्मभूमि है, इतिहास की जननी है, महान गाथाओं की दादी है, परम्पराओं की परदादी है. भारत सचमुच मानव इतिहास की सबसे मूल्यवान चीजों का खजाना है.’ इतना सब होते हुए भी भा...
 पोस्ट लेवल : India's republic day
गोविन्द सिंह
437
आज बहुत वर्षों बाद किसी शिक्षा संस्थान में गणतंत्र दिवस समारोह में शामिल होने का अवसर मिला. किस तरह आज भी शिक्षक बिरादरी बड़े उत्साह के साथ गणतंत्र दिवस को मनाती है, इसका नजदीक से एहसास हुआ. सचमुच मुझे अपने बचपन के दिन स्मरण हो आये. बचपन में जिस प्राइमरी पाठशाला में...
 पोस्ट लेवल : India's republic day society childhood memoirs