ब्लॉगसेतु

अमितेश कुमार
0
सात महीनों तक बंद रहने के बाद मुंबई का पृथ्वी थियेटर 15 नवम्बर को दर्शकों और प्रस्तुतियों के लिए फिर से खुल गया. शुरूआत संगीत की प्रस्तुति से हुई इस बात के उल्लेख के साथ कि डिजिटल माध्यम पर प्रस्तुति की निरंतरता के बावजूद दर्शकों और प्रस्तोता के बीच जीवंत संपर्क का...
 पोस्ट लेवल : Theatre in times of Covid COVID 19
अमितेश कुमार
0
प्रयागराज के एक रिहाइशी मोहल्ले में खुले आकाश के नीचे एक घर की छत पर एक शाम कुछ लोग एकत्रित हुए. पिछले मार्च के बाद यह पहला जुटान था जो जीवंत रंगमंचीय प्रस्तुति के लिए था. बैकस्टेज संस्था के निर्देशक प्रवीण शेखर ने अपने पूर्वाभ्यास के स्पेस को ही अपनी इस नयी प्रस्त...
MediaLink Ravinder
0
कृपया इस ग्रुप में केवल धर्म कर्म की चर्चा ही करें नए सदस्यों का स्वागत है। हम सभी को यहाँ आपके सक्रिय सहयोग का इंतज़ार भी रहेगा। यह ग्रुप केवल और केवल धार्मिक समाचारों--सूचनायों, आयोजनों और धर्म  कर्म से जुडी शख्सियतों के लिए है। इसमें कृपया कुछ भी औ...
 पोस्ट लेवल : Religious Spiritual Coverage Aradhana Times Media News
MediaLink Ravinder
0
*महाभारत के युद्ध के बाद*Vipul Gaur ने फेसबुक पर ज़िंदगी इतनी भी आसान नहीं ग्रुप में पोस्ट किया 18 दिन के युद्ध ने द्रोपदी की उम्र को 80 वर्ष जैसा कर दिया था शारीरिक रूप से भी और मानसिक रूप से भी। उसकी आंखे मानो किसी खड्डे में धंस गई थी, उनके नीचे के काले...
 पोस्ट लेवल : Aradhana Times Media
S.M. MAsoom
0
इंटरनेट कंपनी Google ने युवाओं की सबसे बड़ी जरूरत को ध्यान में रखते हुए एक नई सेवा की शुरुआत की है. गूगल की इस सेवा का नाम जॉब्स नियर मी रखा है. गूगल नौकरी ढूंढ रहे लोगों के लिए यह सर्विस लेकर आया है. बता दें कि इसी तरह की सेवा गूगल पिछले साल अमेरिका में शुरू कर चु...
विजय राजबली माथुर
0
*A thoughtful and incisive article in The New York Times by Aisha Khan on the iconic Indian film actress Madhubala (Mumtaz Jahaan Dehlvi) and her legacy. It includes comments by Nupur Sharma and Inam Abidi Amrohvi. Welcome feedback.**Aisha Khan is an assistant edit...
 पोस्ट लेवल : Aisha Khan Madhubala nytimes Inam Abidi Amrohvi Nupur Sharma
Bharat Tiwari
0
परवीन सुल्तान और अप्पाजी की यादों भरी शाम दिल्ली शास्त्रीय संगीत समारोह : दिन - 1सुरों पर परवीन का कंट्रोल अतुलनीय है, कुछ कुछ फाइटर पायलट का फ्लाइट पर कंट्रोल जैसापरवीन सुल्ताना, जिनकी कशिश भरी आवाज के चाहने वालों में, सिर्फ शास्त्रीय संगीत प्रेमी ही नहीं बल्...
Abhishek Kumar
0
दुर्गा पूजा के समय मौसम को कुछ तो जरूर हो जाता है. एक अलग तरह का नास्टैल्जीआ महसूस होने लगता है. सप्तमी पूजा के आते ही बचपन के वो दिन याद आ जाते  हैं जब हम पटना के दुर्गा पूजा मेले में घुमने निकलते थे. पटना में दुर्गा पूजा का एक अलग ही रंग होता है. बहुत अ...
 पोस्ट लेवल : Good Times Ayaansh Durga Puja Durga Puja in New Delhi
Bharat Tiwari
0
असली स्वाद पाने के लिए रसिक मूल भाषा को अधिक पसंद करता है- भरत तिवारी  (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); हर बोली का एक अपना-काव्य होता है, भाषाओं का विस्तार और भाषाओं का आपसी मेलजोल, उस काव्य को अन्य भाषाओं में भी ले कर आता है, लेकिन यह भ...
Bharat Tiwari
0
भक्ति भारतीय शास्त्रीय नृत्य के मूल में है— भरत तिवारीdescriptionश्रुती कोटि समं जप्यमजप कोटि समं हविःहविः कोटि समम गेयंगेयं गेयः समं विदुह         — स्कन्द पुराण में शिव इसका अर्थ जो मैं निकाल सका — मंत्र-जप दस लाख वेदिक अध्ययन के बराबर है...