ब्लॉगसेतु

Devendra Gehlod
0
..............................
 पोस्ट लेवल : ghazal ahmad-faraz
Devendra Gehlod
0
..............................
Devendra Gehlod
0
..............................
 पोस्ट लेवल : ghazal ahmad-faraz
Devendra Gehlod
0
..............................
 पोस्ट लेवल : ahmad-faraz
Devendra Gehlod
0
अहमद फ़राज़, शायरी को पढ़ने और समझने वाला शायद ही कोई ऐसा शख्स होगा जो इस नाम से परिचित नहीं होगा | आपका जन्म पकिस्तान के (कोहत) नौशेरा शहर में 12, जनवरी, 1931 को हुआ | आप अपने समय के महानतम शायरों में से एक है | आपका असल नाम सैय्यद अहमद शाह था आपके पिताजी स...
 पोस्ट लेवल : biography ahmad-faraz
Devendra Gehlod
0
तुम जमाना-आशना, तुमसे जमाना ना-आशनाऔर हम अपने लिए भी अजनबी, ना-आशनारास्ते भर कि रिफाक़त भी बहुत है जानेमनवरना मंजिल पर पहुच कर कौन किसका आशनामुद्दते गुजरी इसी बस्ती में लेकिन अब तलकलोग नावाकिफ, फ़ज़ा बेगाना, हम ना-आशनाहम भरे शहरो में भी तन्हा है जाने किस तरहलोग वीर...
 पोस्ट लेवल : ahmad-faraz
Devendra Gehlod
0
सुना है लोग उसे आँख भर के देखते हैसो उसके शहर में कुछ दिन ठहर के देखते हैसुना है बोले तो बातो से फुल झड़ते हैये बात है तो चलो बात करके देखते हैसुना है उसके लबो से गुलाब जलते हैसो हम बहार पे इल्जाम धरके देखते हैसुना है उसके बदन कि तराश ऐसी हैकि फुल अपनी कबाए कुतर के...
 पोस्ट लेवल : ahmad-faraz
Devendra Gehlod
0
कभी मोम बन के पिघल गयाकभी गिरते गिरते संभल गयावो बन के लम्हा गुरेज कामेरे पास से निकल गयाउसे रोकता भी तो किस तरहकि वो शख्स इतना अजीब थाकभी तड़प उठा मेरी आह सेकभी अश्क से न पिघल सकासर-ए-राह मिला वो अगर कभीतो नज़र चुरा के गुज़र गयावो उतर गया मेरी आँख सेमेरे दिल से क्यो...
 पोस्ट लेवल : ahmad-faraz