ब्लॉगसेतु

Atul Kannaujvi
0
Killing Veerappan is special for a plethora of reasons - for years every young director I met would wax forth about how their work, in fact the very fact that they were directors was all inspired by one man @rgvzoomin - you are everything they say and more....
Barun Sakhajee
0
बरुण सखाजी श्रीवास्तव(संपादक व राजनीतिक विश्लेषक)एक समान मताधिकार वाली चुनावी व्यवस्था के जरिए जिस लोकतंत्र को हम साधने की कोशिश कर रहे हैं, उसका अब दम फूलने लगा है। यह कहते हुए जरा भी हिचक नहीं कि इसका कोई मुकम्मल विकल्प खोजना ही एक विकल्प हमारे पास है।...
Sanjay  Grover
0
वे जो स्कूल-कॉलेज में पढ़ाते भी हैं और स्टेशनरी भी चुराते हैं, जो बाढ़ और अकाल के नाम पर दफ़्तर में आई राशि ख़ुद खा जाते हैं, जो टैक्स नहीं देते, जो भरपूर ब्लैक-मनी होते हुए भी घर में हवा-पानी के लिए छोड़ी गई जगह में कमरे बना लेते हैं फिर शहर को कंक्रीट का जंगल भी बताक...
MediaLink Ravinder
0
Saturday: 31st September 2019:7:56 PM: FB Messenger सच बोलिए! -*मंजुल भारद्वाजसच के बदले मिलती है मौत यह मौत सच का ईनाम होती है आदि से आज तक इतिहास में दर्ज़ है सच बोलने वाला चाहे सुकरात हो मंसूर हो या गांधी सत्ता के अंधियारे में सच बोलन...
 पोस्ट लेवल : drama Manjul Bhardwaj Artist Mumbai Stage
MediaLink Ravinder
0
एक दिन में ग्रिफ्तारी होने का वायदा मिलने पर धरना उठाया  लुधियाना: 28 अप्रैल 2019: (पंजाब स्क्रीन टीम)::  लुधियाना के सतीश चंद्र धवन कालेज में खेले गए नाटक का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। आज इस मुद्दे को ले कर भारत नगर चौंक पूरी तरह से जाम रखा गय...
MediaLink Ravinder
0
वकीलों ने कहा-हम आरोपियों को कड़ी से कड़ी सज़ा दिलवाएंगे लुधियाना: 25 अप्रैल 2019: (इर्द गिर्द डेस्क):: कुछ दिन पहले यहाँ के सतीश चंद्र धवन कालेज  की एलुमनी मीट के दौरान करवाए गए एक नाटक का विवाद और गहराता जा रहा है। उल्लेखनीय है कि मराठी लेखि...
 पोस्ट लेवल : Drama Dispute Ludhiana Whats app SCD Govt. College Bajrang Dal
MediaLink Ravinder
0
कालेज पर धरने के बाद भाई बाला चौंक जाम करने की घोषणा  लुधियाना: 23 अप्रैल 2019: (पंजाब स्क्रीन ब्यूरो):: बजरंग दल निरंतर गुस्से में है। उसका रोष थमा नहीं। समझौते और गुप्त वार्ताओं से स्पष्ट इंकार करते हुए बजरंगी युवा कहते हैं न हम बिकेंगे न ही...
MediaLink Ravinder
0
बिना किसी भाषा के दिखा रहा था ज़िन्दगी की तस्वीर को  लुधियाना: 14 अप्रैल 2019: (रेक्टर कथूरिया//पंजाब स्क्रीन):: कभी बहुत पहले वर्ष 1955 में एक फिल्म आई थी--बारादरी। उसमें खुमार बारबंकवी साहिब का लिखा एक गीत बहुत मक़बूल हुआ था-- तसवीर बनाता...
 पोस्ट लेवल : Ludhiana Punjabi Bhawan Drama Theater Stage
zeashan zaidi
0
‘‘तान्या, ये मक्खियाँ नहीं हैं। इनमें से एक हमारे सम्राट हैं।’’‘‘एक मक्खी तुम्हारी सम्राट!’’ तान्या जोर से हँस पड़ी।उसी वक्त दोनों मक्खियाँ अपना आकार बदलने लगीं। थोड़ी ही देर में उनका शरीर हाथी जितना विशाल हो चुका था।’’ तान्या ने देखा उनमें से एक मक्खी गुस्से से...
zeashan zaidi
0
 तान्या के ग्रुप में एक हलचल सी मच गयी थी।‘‘बगैर शादी के बच्चा! मुझे उम्मीद ही नहीं थी तान्या ऐसी होगी।’’ रिजवान ने कहा। साथ में अपने कानों को हाथ भी लगा लिया था।‘‘तान्या किसी देवी की तरह पवित्र है। तुम उसके बारे में ऐसी बातें सोच भी नहीं सकते।’’ रोहित ने थोड़ा...