ब्लॉगसेतु

दिनेशराय द्विवेदी
0
देश में शीत गृहयुद्ध जारी है। हमारी न्याय व्यवस्था जर्जर होने की सीमा तक पहुँच गयी है। कहीं कहीं फटी हुई भी है। फटने से हुए छिद्रों को छुपाने के लिए लगाए गए पैबंद खूब दिखाई देने लगे हैं। जहाँ सौ जोड़ा कपड़ों की हर साल जरूरत है, वहाँ दस जोड़ा कपड़े दिए जाते हैं। जंज...
Kajal Kumar
0
VMWTeam Bharat
0
 आज से करीब एक साल पहले देश में हुए आम चुनावों में यहां की आवाम ने ऐसा फैसला सुनाया जो वाकई चौंकाने वाला था। भारतीय जनता ने एक-जुट होकर सत्ता की बागडोर किसी एक पार्टी को या कहें कि एक इंसान को ही सौंप दी। वो शख्स कोई और नहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ही थे।लोक...
आदित्य सिन्हा
0
G for Government in Exile – The Tibetan Govt. & Dalai Lama in McLeod GanjIn Himachal at McLoed Ganj (11 Km uphill from Dharamshala) proudly is the seat of the exile govt. of Tibet. Since the visit of 14th Dalai Lama to Dharamshala in 1959, the Tibetan’s are tak...
E & E Group
0
Government Registration Help DeskGovernment Registration Help Desk includesPAN CardVoter IdIncome CertificateAadhar CardCaste CertificateBirth CertificateDeath CertificateRation CardDriving LicensePassport ServicesMarriage Certificate
 पोस्ट लेवल : Government Registration Help Desk
हर्षवर्धन त्रिपाठी
0
भारतीय जनता पार्टी के संदर्भ में पार्टी विद द डिफ्रेंस का नारा ही सबसे मजबूत पहचान हुआ करती थी। लेकिन, अब तो खुद भारतीय जनता पार्टी के नेता भी मुश्किल से ही इस नारे को इस्तेमाल करते देखे जा रहे हैं। क्या सचमुच भारतीय जनता पार्टी अब भारतीय राजनीति की पार्टी विद द ड...
हर्षवर्धन त्रिपाठी
0
रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने नई ट्रेन का एलान नहीं किया। मन में एक सवाल आ रहा है कि क्या इससे पहले कोई ऐसा रेल बजट था जिसमें किसी नई ट्रेन का एलान नहीं हुआ। ये छोटा सवाल नहीं है। जिस देश में एक हैंडपंप देने से लोगों की राजनीति चलती, बनती, बिगड़ती रही हो, वहां रेल बजट...
Kajal Kumar
0
Kajal Kumar
0
Mithilesh Singh
0
देश में नयी सरकार का गठन हो चूका था. अलग अलग मंत्रालयों के लिए उस विषय से सम्बंधित योग्य व्यक्तियों की चर्चा थी. यह पहली बार था, जब देश को आज़ाद होने के 65 साल बाद देशवासियों को वास्तविक लोकतान्त्रिक सरकार मिली थी. भारत के लोगों को सर्वाधिक ख़ुशी तब हुई, जब देश के जा...