ब्लॉगसेतु

Bharat Tiwari
15
कर्फ्यू— चौ. मदन मोहन समरआम जनता सिस्टम की उन नाकामियों को जिनका कारण राजनीति आदि होती हैं और जिनसे पैदा होने वाली समस्याओं से निपटारा पाना पुलिस की जिम्मेदारी हो जाता है, उसके लिए पुलिस को कटघरे में खड़ा करती है. मेरा ख़ुद का सबसे जिगरी दोस्त दिल्ली पुलिस में है, जि...
Bharat Tiwari
15
दंगा भेजियो मौला— अनिल यादव हिंदी कहानीकोरोना की तालाबंदी में क़ैद पाठक को अनिल यादव की हिंदी कहानी 'दंगा भेजियो मौला' उनमें से एक सिरा पकड़ा सकती है जो उसे अपनी वर्तमान लाचार और बेबस हालत के होने का कारण दिखा सकता है और बता सकती है कि उस कारण में उसका क्या...
Bharat Tiwari
15
शिवानी की कहानी — नथपिछली सदी से जारी स्त्री स्वाधीनता की खामोश लड़ाई की कहानी  - मृणाल पांडे आज की पीढ़ी को, जो सोशल मीडिया पर अपनी लेखकीय ढोल पिटाई के बीच बड़ी हो रही है, बताना ज़रूरी है कि प्रेमचंद ने मार्क्स को खुश करने, निराला ने अपनी जयंती मनवाने या नि...
rishabh shukla
660
कोरोना वायरस क्या है? इसकी उत्पत्ति कहाँ और कैसे हुई?कोरोनावायरस (Coronavirus) कई वायरसो का एक समूह है जो स्तनधारियों और पक्षियों में रोग के कारक होते हैं। यह आरएनए वायरस होते हैं। मानवों में यह श्वास तंत्र संक्रमण&...
Bharat Tiwari
15
निर्मल वर्मा की बुक मेरी प्रिय कहानियाँ  से कहानीडेढ़ इंच ऊपरNirmal Verma Booksनिर्मल वर्मा की बुक 'मेरी प्रिय कहानियाँ' की कहानी ‘डेढ़ इंच ऊपर’ पढ़िए और हिंदी कहानी के इस महानायक की मायावी लेखन क्षमता का स्वाद लीजिये। कहानी में जगह-जगह आपको मिलेंगे मानव ज...
Bharat Tiwari
15
परिपक्व हिंदी कहानी काई— उषाकिरण खानएक दिन विपिन ने कहा था - ‘‘इजोतिया को तुम क्यों नहीं अपनी एकआध चोली दे देती हो? तुम्हारे नाप का ही तो आयेगा।’’‘‘वह पहनना ही नहीं चाहती है शैतान। कहती है बंधन-सा लगता है। लेकिन तुम उसके नाप के बारे में कैसे कह सकते हो? क्या ब...
Bharat Tiwari
15
ममता कालिया की कहानी 'पीठ'बेवजह शक बेवजह कुंठाग्रस्त करता है (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); ममता कालिया जी को हिंदी कथाप्रेमी यों ही नहीं हाथों-हाथ लिए रहता। उनकी यह कहानी 'पीठ' साहित्य लेखन के दर्पण-सी है। उन्होंने ...
Bharat Tiwari
15
प्रतियोगिता का दबाव और कहानीतो परियां कहां रहेंगी— आकांक्षा पारे काशिव (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); 100% पढ़ी जाने वाली और 101% तसल्ली बख्श कथा है आकांक्षा पारे काशिव की 'तो परियां कहां रहेंगी'। ज़िन्दगी की वह जंग जो एक सन्तान प्रतियोग...
Bharat Tiwari
15
भारत पाकिस्तान विभाजन की कहानियाँ' ' लाजो ' '— ज्योति चावलाडॉक्टरों का कहना है कि उनका सोडियम बढ़ गया है। ऐसी हालत में ही मरीज़ बड़बड़ाया करते हैं। और बगल में खड़ी मैं सोच रही हूं कि इसका मतलब नानी का सोडियम तो बरसों से बढ़ा हुआ है क्योंकि वे तो बरसों से बड़बड़ा रही हैं। अ...
Bharat Tiwari
15
हंस मार्च 2020 में प्रकाशित कहानीविभाजन की कहानियाँदुखां दी कटोरी: सुखां दा छल्लारूपा सिंह  बेबे की गरम और नरम छातियों के बीच दुबककर सो जाना, कूबड़ पर हाथ रखते ही छुहारों और बताशों की मिठास से मुंह गीला होना अमृतसर की गलियों का सोंधापन, बेबे की कुंडल के लश...