ब्लॉगसेतु

Bharat Tiwari
18
कवि राजेंद्र राजन जी की इन कविताओं को पढ़ने के बाद... कुछ कवि अपना धर्म निभा रहे हैं और बाकियों को कवि कहा, सोचा ही क्यों जाए! भरत एस तिवारी/ शब्दांकन संपादकआज का नीरो | न्याय | हौसला आफजाई | दूसराराजेंद्र राजनवैचारिक पत्रिका सामयिक वार्ता के पूर्व कार्यका...
Devendra Gehlod
46
..............................
 पोस्ट लेवल : kavita manish-verma
Bharat Tiwari
18
और फिर वह हॅंसी फिर उभरी आश्वस्त करती / थोड़ा ताजा थोड़ा नम / ‘‘ और ठीक हो न / कुछ लिखते भी हो / मैंने पढ़ा था शायद.........’’रघुवंश मणि की कविताओं को पढ़ते हुए जिस अद्भुत ख़ुशी का आगमन होना शुरू होता है, उसके लिए मैं सोचता हूँ कि उन संवेदनशीलों, कविता प्रेमियों और साहि...
Mahesh Barmate
265
तुम्हें वो याद करता हैहाँ! फरियाद करता है।वो इश्क़ में तेरेउस दिन का इंतज़ार करता हैजिस दिन दिल से वो कहेकि वो सिर्फ तुमसे ही प्यार करता है।तेरी हाँ और न का उसे कोई फर्क नहीं है अबकि रूह के आशिक़ के पास कोई शर्त नहीं है अब।कुरबतें उसकी जरूरत नहीं थी कभीबस मुहब्बत में...
Devendra Gehlod
46
..............................
 पोस्ट लेवल : kavita manish-verma
Bharat Tiwari
18
कविताओं का होना, उनका लिखा जाना बर्बर समय में संवेदनाओं के बचे रहने का सुखद संकेत है। ऐसे ही संकेतों के बिम्ब सर्वेश त्रिपाठी की 'नई क़लम' में हैं। इलाहाबाद विश्वविद्यालय से इतिहास में परास्नातक और विधि स्नातक, युवा कवि सर्वेश वहाँ के उच्च न्यायालय की लखनऊ खंडप...
अभिषेक ठाकुर
508
 तस्वीरें पलटना भी बहाना हो गयाआईने में चेहरा अब पुराना हो गयाटूटे ख़्वाबों को दफ़्न कर दिया जब सेज़िंदगी का सफ़र भी सुहाना हो गयाकब तलक राह देखे कोई अच्छे दिनों कीछोड़ो कि अब मंज़र वो पुराना हो गयाभूखे पेटों के लिए सिर्फ़ गर्व की ही नेमतेंहाकिम का रोज़ का फ़साना हो गय...
 पोस्ट लेवल : Kavita Ghazal
Shreesh Pathak
361
उड़ते उम्मीदों केसफेद हंस फिर लोरियाँ गाएंगे_________________________Image Source: Google Imageएक 'क्यों' अटका है मुझमें माँतुम्हारे जाने के बाद.ये सवाल तुम्हारी याद परजब तब भारी पड़ जाता है,और आँसू ढूलकने नहीं देतापर फूट-फूटकर पिघलता है अंतर्मन.एक 'क्या' भी निश्चि...
 पोस्ट लेवल : कविता kavitaa डॉ. श्रीश
Bharat Tiwari
18
हिंदी पोएट्री: नौ नवम्बर व अन्य अनामिका अनु की कवितायेँHindi Poetry, Anamika Anu.अनामिका अनु की इन कविताओं को आपके सामने लाने के पहले कई-कई दफ़ा पढ़ा है। हिंदी कविता के साथ यह बहुत खूबसूरत घटना घट रही है जब उसकी कविता को ऐसी एक नई आवाज़ मिल रही है जो पर...
Bharat Tiwari
18
अच्छी कवितायेँHindi Poetryयुद्ध में हूँजीवट की यह बेला हैहर योद्धा युद्ध में अकेला हैसुदूर कहीं, गिरी-कंदराओं मेंदिव्यदीप की खोज में हूँखिंची धनुष की प्रत्यंचा परनये नुकीले तीर में हूँपूर्वजों से चली आईधारदार शमशीर में हूँतुम गा रही हो विरह के गीत युद्ध और विर...